संवाद सूत्र, सुंदरगढ़ : समय के सदुपयोग के साथ साथ कठिन परिश्रम, दृढ़ इच्छाशक्ति हर परीक्षा के लिए आवश्यक है। अपने अंदर की योग्यता, दक्षता को पहचानने के साथ उसे और अधिक पैना बनाना जरूरी है। केवल स्मरण शक्ति के द्वारा प्रशासनिक सेवा की परीक्षा पास नहीं कर सकते, बल्कि इसके लिए उपस्थित बुद्धि का भी प्रयोग अति आवश्यक है। सुंदरगढ़ शासकीय महाविद्यालय में करियर काउंसिलिंग के दौरान जिलाधीश निखिल पवन कल्याण ने विद्यार्थियों को यह सीख दी। जिलाधीश ने प्रशासनिक सेवा परीक्षा की प्रस्तुति के बारे में अपने अनुभव साझा करते हुए जरूरी टिप्स भी दिए। प्रधान अध्यापक डॉ किशोर कुमार दास ने सकारात्मक मानसिकता एवं अनथक परिश्रम का छात्र छात्राओं को परामर्श दिया।

इससे पहले जिलाधीश निखिल कल्याण ने महाविद्यालय के नवनिíमत व्यायामशाला के साथ पुस्तक बागीचा का उद्घाटन किया। इन सुविधाओं का सदुपयोग कर शरीर व मन को स्वस्थ रखने का उन्होंने छात्र-छात्राओं को परामर्श दिया।

करियर काउंसिलिंग संयोजक अध्यापक डॉ. ललित रंजन साहू, डॉ. सुधीर कुमार दास, डॉ. जयश्री शुक्ल, डॉ. सरोज कुमार पटेल, प्रदीप कुमार बहिदार समेत सभी अध्यापक व कर्मचारियों ने कार्यक्रम में सहयोग किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस