संबलपुर, जेएनएन। कामकाज की तलाश में तमिलनाडु जाने के लिए अपने पति के साथ निकली एक नवविवाहित संबलपुर में दुष्कर्म का शिकार हो गई। पीड़ित महिला की शिकायत के बाद पुलिस ने बस चालक लक्ष्मण वर्मा को भादंवि की धारा- 366, 376 और एससी/एसटी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपित लक्ष्मण विवाहित है और सिंदूरपंक इलाके में अपने परिवार के साथ रहता है।

थाने में दर्ज शिकायत के अनुसार, 14 मई को झारखंड के सिमडेगा में रहने वाले नवविवाहित दंपती कामकाज की तलाश में तमिलनाडु जाने के लिए ट्रेन से संबलपुर पहुंचे। संबलपुर सिटी स्टेशन में उतरने के बाद अईंठापाली बस टर्मिनस आए। यहां उनकी मुलाकात बस चालक लक्ष्मण वर्मा से हुई। लक्ष्मण को जब उनके बारे में पता चला तो उसने कामकाज की खातिर तमिलनाडु जाने के बजाय संबलपुर में रहकर काम करने की सलाह दी। और तो और उसने नवदंपती को अपनी बाइक में बैठाकर धनकौड़ा स्थित एक बिस्कुट फैक्ट्री भी ले गया। वहां के मालिक से नवदंपती के लिए काम भी पक्का कर दिया। इसके बाद लक्ष्मण उन्हें सिटी स्टेशन के निकट किराए का मकान दिखाने भी ले गया। परदेश में लक्ष्मण जैसे व्यक्ति पर नवदपंती ने विश्वास कर लिया। लेकिन उसकी मंशा को भांप नहीं सके।

आरोप है कि सिटी स्टेशन के पास मकान दिखाने के बाद लक्ष्मण पति को अपने साथ बस टर्मिनस ले गया। जहां उसे एक स्थान पर रुकने को कहकर गैराज जाने के बहाने उसकी पत्नी के पास पहुंच गया। पत्नी को एक और अच्छा मकान मिलने की बात कहकर उसे मकान दिखाने के बहाने अपनी बाइक में बैठाकर अईंठापाली की ओर आया और एक सुनसान स्थान पर उसके दुष्कर्म किया। आधी रात के बाद लक्ष्मण उस नवविवाहिता को सदर थाना क्षेत्र में अकेला छोड़कर फरार हो गया।

दुष्कर्म का शिकार हुई महिला किसी तरह सदर थाना पहुंची और पुलिस को आपबीती सुनायी। लेकिन मामला धनुपाली थाना क्षेत्र का होने के कारण सदर पुलिस ने मामला धनुपाली थाना भेज दिया। धनुपाली थाना में शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। बुधवार को आरोपित बस चालक लक्ष्मण वर्मा को हिरासत में ले लिया। पीड़ित महिला ने दुष्कर्मी के रूप में लक्ष्मण की शिनाख्त कर दी। 

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Babita