संसू, संबलपुर : चक्रवात फणि की वजह से बीते शुक्रवार से अंधेरे में डूबे राजधानी भुवनेश्वर समेत पुरी, खोर्दा एवं अन्य कई शहरों को रोशन करने के लिए संबलपुर जिला प्रशासन की ओर से अब तक 26 जेनरेटर भुवनेश्वर भेजा गया है। जिले के कई बड़े संस्थानों ने भी जेनरेटर देने का भरोसा दिया है जो मिलने के बाद भेजे जाएंगे। चक्रवात फणि के बाद से पूर्वी ओडिशा के कई जिलों में अब तक विद्युतापूर्ति ठप है। इसी का लाभ लेकर किराए पर जेनरेटर देने वाले लोगों से मनमाना किराया वसूल रहे हैं। कुछ स्थानों पर प्रति घटे डेढ़ से दो हजार रुपये का किराया वसूला जा रहा है। लोग कुछ घटों के लिए मजबूरी में अधिक किराया देकर जेनरेटर से मोबाइल फोन चार्ज, कुंए से पानी आदि निकालने को मजबूर हो रहे हैं। प्रभावित लोगों की मुश्किलों को कम करने के लिए संबलपुर जिला प्रशासन ने रविवार को 18 तथा सोमवार को 8 विद्युत जेनरेटर भेजे गए। करीब 14 से 82 केवी की क्षमता वाले इन जेनरेटर से घटों विद्युतापूर्ति हो सकेगी। पूर्वी ओडिशा में करीब 30 लाख विद्युत उपभोक्ता हैं जो चक्रवात की वजह से प्रभावित और अंधेरे में हैं। विद्युत मुहैया कराने वाली कंपनी युद्धस्तर पर सेवा बहाल करने में जुटी है। लेकिन सोमवार तक राजधानी भुवनेश्वर के कुछ इलाकों में ही इसे बहाल किए जाने की खबर है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस