संवादसूत्र, संबलपुर : देश के अन्य शहरों की तरह ओडिशा में भी बढ़ते साइबर क्राइम को देखते हुए उत्तरांचल पुलिस रेंज की ओर से संबलपुर में दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में संबलपुर समेत बरगढ़, झारसुगुड़ा, बलांगीर और सोनपुर जिला के पुलिस अधीक्षक सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी शामिल रहे। इस कार्यशाला में विशेष अतिथि के रूप में साइबर क्राइम एक्सपर्ट ईशान सिन्हा ने विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालने समेत पुलिस अधिकारियों को साइबर क्राइम से निपटने के टिप्स दिए। उत्तरांचल पुलिस महानिरीक्षक (डीआइजी) कार्यालय में आयोजित इस कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए डीआइजी हिमांशु लाल ने कहा कि देश में 90 फीसद लोग साइबर क्राइम का शिकार हो रहे हैं। कभी किसी के बैंक अकाउंट से रुपये पार हो जाता है तो कभी किसी के मोबाइल फोन पर अश्लील मैसेज भेजा जाता है। नगर भी साइबर क्राइम का शिकार हुए लोगों की संख्या बढी है । पुलिस ऐसे अपराधियों से निपटने की हरसंभव कोशिश कर रही है, लेकिन लोगों को भी ऐसे अपराध के प्रति जागरुक होने की जरूरत है। पुलिस साइबर क्राइम को रोकने की पूरी कोशिश कर रही है।

इस कार्यशाला में अत्याधुनिक तकनीक के विकसित होने और इसका दुरुपयोग कर साइबर क्राइम करने वाले अपराधियों की बढ़ती संख्या पर चिता जतायी गई। साथ ही ऐसे मामलों की जांच करने वाले पुलिस अधिकारियों को भी ऐसे अपराधियों से दो कदम आगे रहने के बारे में बताने समेत जांच में अत्याधुनिक तकनीक का उपयोग करने की सलाह दी गयी। इसके लिए पुलिस अधिकारियों की दक्षता विकास करने के लिए विशेष प्रशिक्षण के बारे में भी बताया गया। इस कार्यशाला में संबलपुर एसपी डॉ. कंवर विशाल सिंह, बरगढ़ एसपी पद्मिनी साहू, झारसुगुड़ा एसपी अश्विनी महांती, सोनपुर एसपी देवीप्रसाद दास और बलांगीर एसपी एम संदीप संपत समेत कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप