संवाद सूत्र, संबलपुर : सदर थाना अंतर्गत शुक्रवार की शाम ट्रैक्टर की ठोकर से घेनुपाली गांव के बड़साही मोहल्ले में रोहित भोई की मौत को लेकर शनिवार को गांव में बवाल हो गया। रोहित की मौत को दुघर्टना नहीं, बल्कि हत्या का मामला बताकर गांववालों ने संदिग्ध आरोपित झस देहुरी का घर फूंक दिया। भीड़ को नियंत्रित करने पहुंची पुलिस पर भी पथराव किया गया। बेकाबू भीड़ को पुलिस ने आंसू गैस छोड़कर काबू में किया। गांव में ¨हसा होने की आशंका को देखते हुए एसडीपीओ भवानी शंकर उदगाता आदि आला अधिकारी पहुंचने के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। इससे पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। पुलिस की ओर से इस मामले के संदिग्ध आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार की शाम रोहित भोई (टेंट व्यवसायी) को उसका बकाया रुपये देने के लिए बुलाया गया था। रोहित जब बुलाए गए स्थान की ओर जा रहा था तभी ट्रैक्टर ने उसकी बाइक को ठोंक दिया। रोहित को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए बुर्ला स्थित मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल लाया गया, जहां पर उसकी मौत हो गयी। मृतक रोहित के परिवारवालों व गांववालों का आरोप है कि रोहित की हत्या की गई है। इसके पीछे व्यवसायिक प्रतिद्वंद्विता है। संदिग्ध आरोपित झस देहुरी भी टेंट व्यवसायी है और इसी को लेकर दोनों के बीच दुश्मनी थी। इसी को लेकर योजनाबद्ध तरीके से रोहित की हत्या कर दुघर्टना का रूप देने की कोशिश किये जाने का आरोप लगाया गया है।

Posted By: Jagran