संवाद सूत्र, संबलपुर : देश-प्रदेश की सरकार कोरोना वायरस से निपटने और देशवासियों को इसके खतरे से बचाने की कोशिश में जुटी है। वहीं कुछ लोगों को यह सब मजाक सा लग रहा है और सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देश का उल्लंघन किया जा रहा है। संबलपुर में बुधवार को कोरोना वायरस को लेकर सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन और दिशानिर्देश का उल्लंघन करने वाले आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इनमें से दो के खिलाफ एक होम क्वारंटाइन व्यक्ति का नाम और पता सोशल मीडिया में वायरल करने का मामला दर्ज किया गया है। यह सभी मामले स्थानीय धनुपाली थाना क्षेत्र के हैं।

धनुपाली पुलिस के अनुसार, बुधवार को देश में लॉकडाउन का पहला दिन था तब तीन युवक बाइक में सवार होकर बेवजह घूम रहे थे। उन्हें रोककर पूछताछ करने के बाद उन्हें लॉकडाउन दिशानिर्देश के उल्लंघन का आरोपी पाया गया और उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

इसी तरह, लॉकडाउन के दौरान स्थानीय पुटीबंध निकटस्थ नेताजी सुभाषचंद्र बोस कॉलेज के निकट भोज करने पहुंचे युवकों में से तीन को पुलिस ने पकड़ लिया, जबकि अन्य फरार हो गए। पकडे गए युवकों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया।

सरकारी निर्देश के अनुसार, कोरोना वायरस से संक्रमित या संदिग्ध व्यक्ति की पहचान गुप्त रखा जाना है, लेकिन धनुपाली इलाके के दो युवकों ने अपने इलाके के एक कोरोना संदिग्ध का नाम और पता सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। ऐसे में उनके खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार की आधी रात से देश भर में लॉकडाउन घोषित किए जाने से पहले रविवार की आधी रात से मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने संबलपुर समेत आठ शहरों में लॉकडाउन घोषित किया था, लेकिन मंगलवार की देर शाम तक शहर के कई इलाकों में लोगों को बेपरवाह होकर गली- मोहल्लों और सड़कों पर घूमते देखा गया। पुलिस की गाड़ी देखकर लोग छिप जाते थे और गाड़ी के जाने के बाद फिर से सड़क पर आ जाते थे। इसी तरह कई स्थानों पर चाय, नाश्ते और उबले अंडे भी बिकते देखे गए, लेकिन बुधवार को पुलिस की सख्ती के बाद सडकों पर बेवजह की भीड़ में काफी कमी देखी गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस