संबलपुर, जेएनएन। बुर्ला स्थित मेडिकल हॉस्पिटल में इलाज के लिए जाना अब लोगों के लिए आफत बनते जा रहा है। डॉक्टरों की लापरवाही से आए मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। एक गरीब परिवार की युवती भी एक डॉक्टर की लापरवाही का शिकार हुई है और अब उसे बेहतर इलाज के लिए कटक स्थित श्रीरामचंद्र भंज मेडिकल हॉस्पिटल स्थानांतरित किया गया है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, बुर्ला के वन आर कॉलोनी में रहने वाली 25 वर्षीय युवती के निचले होंठ में छोटी सी गांठ बन गयी थी। इस गांठ की वजह से युवती को काफी परेशानी हो रही थी। इसका इलाज करने के लिए उसके पिता बेटी को बुर्ला हॉस्पिटल के ईएनटी विभाग के आउटडोर ले गए थे। आरोप है कि युवती को वहां एक इंजेक्शन दिया गया था और इसी के बाद युवती का होंठ काला पड़कर फुल गया। यह देख उसे इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कर इलाज शुरू किया गया, लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ। युवती के होंठ का मांस सड़कर गिरने लगा है।

बताया जा रहा है कि युवती का इलाज अब कॉस्मेटिक सर्जरी से संभव हो सकेगा, जो काफी महंगी है। युवती के परिवार वाले इतनी महंगी सर्जरी कराने में भी असमर्थ हैं। ऐसे में सरकार की मदद से ही उसका इलाज और सर्जरी संभव है। सोमवार की शाम, संबलपुर रेडक्रॉस की ओर से महादेव बेहेरा और निहाल सिंह बुर्ला हॉस्पिटल में पीड़ित युवती और उसके परिवार से मुलाकात कर दस हजार रूपए की सहायता राशि प्रदान किया। 

स्वास्थ्य शिविर में सैकड़ों लोग हुए लाभान्वित

ब्रजराजनगर  के वरिष्ट नागरिक संघ कार्यालय परिसर में मंगलवार को एमसीएल के ओरिएंट क्षेत्र द्वारा निश्शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर के उद्घाटन एमसीएल ओरिएंट क्षेत्र के महाप्रबंधक विष्णु चरण त्रिपाठी ने बतौर मुख्य अतिथि किया। इसमें डॉ. प्रभात कुमार तथा डॉ. जे भाग्यश्री ने 101 मरीजों के स्वास्थ्य की जांच करने के साथ ही उन्हें आवश्यक दवाएं मुहैया करायी।

शैवाल एयर प्यूरीफायर, 98 प्रतिशत तक हानिकारक गैसों का करेगा खात्मा

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस