संवाद सूत्र, संबलपुर : सुदूर केरल के इडुक्की जिला अंतर्गत मुन्नार थाना इलाके में अपने साथी की हत्या कर फरार दो आरोपितों को, संबलपुर रेल सुरक्षा बल और सीआइबी संबलपुर की संयुक्त टीम ने हिरासत में लेकर शुक्रवार को केरल से आइ पुलिस के हवाले कर दिया है।

संबलपुर आरपीएफ थानेदार एम यादव के अनुसार, बुधवार की शाम आरपीएफ को सूचना मिली थी कि केरल में अपने एक साथी की हत्या कर दो आरोपित फरार हैं। दोनों आरोपित झारखंड के बताए गए थे। ऐसे में, उनके अलापुझा-धनबाद एक्सप्रेस में यात्रा की अधिक संभावना को देखते हुए संबलपुर आरपीएफ और सीआइबी ने दक्षिण भारत की ओर से आने वाली ट्रेनों पर नजर रखने समेत संबलपुर स्टेशन में टेनों की की जांच शुरू कर दी। बताया गया है कि गुरुवार की रात जब अलापुझा- धनबाद एक्सप्रेस संबलपुर स्टेशन पहुंची तब आरपीएफ थानेदार एम यादव और सीआइबी थानेदार विवेक कुमार की संयुक्त टीम ट्रेन के डिब्बों में जांच शुरू की और केरल से फरार दोनों हत्या आरोपितों को पकड़ने में सफल रही। आरोपितों का नाम सहदेव लांग और दाबुई चंपिया बताया गया है।

जानकारी के अनुसार, सहदेव, दाबुई और मृतक मुन्नार के एक चाय बगान में काम करते थे। करीब दस दिन पहले किसी बात को लेकर इन दोनों का झगड़ा अपने साथी के साथ हो गया और दोनों ने मिलकर अपने साथी की हत्या कर फरार हो गए थे। इस हत्या घटना की जांच के दौरान मुन्नार पुलिस को पता चला था कि दोनों हत्या आरोपित केरल के तिरुपुर स्टेशन से अलापुझा-धनबाद एक्सप्रेस में सवार हुए थे। इसके बाद दोनों का फोटो विभिन्न आरपीएफ थानों को भेजा गया था। हीराकुद में नाबालिग का अपहरण, शिकायत दर्ज : उपनगर हीराकुद के तारासिंहपाड़ा की नाबालिग का अपहरण किए जाने की रिपोर्ट थाने में दर्ज करायी गई है। रिपोर्ट में नाबालिग के पिता ने अपने ही मोहल्ले के मोंटी नाग पर संदेह व्यक्त किया है। पुलिस मामला दर्ज कर नाबालिग और आरोपित मोंटी की तलाश कर रही है। जानकारी के अनुसार, तारासिंहपाड़ा का मोंटी नाग तमिलनाडु में कहीं मजदूरी का काम करता है और हाल ही में वह हीराकुद लौटा था। इसी दौरान उसने नाबालिग को बरगलाया और उसका अपहरण कर कहीं फरार हो गया है। पुलिस को प्राथमिक जाच पड़ताल के बाद नाबालिग और मोंटी के बीच प्रेम संबंध होने का पता चला है।

Edited By: Jagran