जागरण संवाददाता, राउरकेला : सुंदरगढ़ कलायतन कालेज आफ आ‌र्ट्स के छात्र करण पटनायक की 14 नवंबर को कोइली घोघर में डूबने से मौत की घटना में नया मोड़ आया है। छात्र के माता पिता ने इसे सुनियोजित हत्या का मामला बताते हुए रेंगाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इकलौते संतान की आकस्मिक मौत पर वे मर्माहत हैं। प्रतिकूल परिस्थिति व मौसम खराब होने के बावजूद पिकनिक पर जाने को लेकर भी उन्होंने सवाल उठाए हैं।

करण के पिता दीपक पटनायक व मां जानकी पटनायक ने बताया कि बेटे की मौत में सुनियोजित हत्या का उन्हें संदेह है। इसलिए इसकी उच्च स्तरीय जांच कर सच्चाई सामने लाया जाना चाहिए और इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई होनी चाहिए। करण कलायतन कालेज आफ आ‌र्ट्स में प्रथम वर्ष का छात्र था। घटना के दिन सुबह आठ बजे विद्यार्थी कलायतन में एकत्र हुए एवं बस कोइली घोघर में पिकनिक के लिए रवाना हुई। करण अपनी मां से 1.35 बजे तक मोबाइल से बात करता रहा। शाम करीब चार बजे अचानक एक फोन कॉल आया कि करण पानी में डूब गया है एवं उसे निकाल कर बेलपहाड़ टीआरएल अस्पताल स्थानांतरित किया गया है। यह सूचना मिलते ही जब दोनों अपने रिश्तेदारों के साथ अस्पताल पहुंचे तब वहां पता चला कि उसकी मौत हो गई है। उसे तैरना नहीं आता था। ऐसे में वह पानी में जाने का प्रश्न ही नहीं उठता। सुनियोजित योजना के तहत उसकी हत्या की गई है। घटना के दिन मौसम खराब था एवं निम्नदाब के चलते पूरे राज्य में येलो वार्निंग जारी की गई थी। इसके बावजूद कालेज प्रबंधन की ओर से पिकनिक के लिए अनुमति कैसे दी गई। करण उनका इकलौता बेटा था जिसकी मौत पर दोनों सदमे में हैं।

Edited By: Jagran