जागरण संवाददाता, राउरकेला : बसंती कॉलोनी के जीएम ब्लाक निवासी स्क्रैप कारोबारी विश्वनाथ जायसवाल के चाइबासा से गायब होने का रहस्य गहराता जा रहा है। इसकी सूचना विश्वनाथ के परिजनों ने चाईबासा और राउरकेला पुलिस से साझा की है। साथ ही अपहरण की आशंका भी जताई है। हालांकि अपहरण का कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार विश्वनाथ के मोबाइल ट्रे¨कग में उसका लोकेशन बंगाल का पुरुलिया बता रहा है। गौरतलब है कि विश्वनाथ शुक्रवार को इस्पात एक्सप्रेस से अपने कर्मचारी दिलीप के साथ चक्रधरपुर गया था। जहां से गुआ में खरीदे गए एक वाहन का पंजीकरण कराने वह चाईबासा आरटीओ कार्यालय आया। यहां काम निपटाकर चाईबासा बस स्टैंड पहुंचा। वहां एक फोन आने के बाद विश्वनाथ अकेला टाटा जाने एवं देर रात को लौटने के बात कहकर वहां से निकला। देर रात तक नहीं लौटने तथा दोनों फोन स्विच ऑफ होने के कारण परिवार वालों को संदेह हुआ। मामले में रहस्य की स्थिति बनी हुई है।

By Jagran