जागरण संवाददाता, राउरकेला : भगवान जगन्नाथ अपने भाई बलभद्र व बहन सुभद्रा के साथ मौसी मां के घर गुंडिचा मंदिर में हैं। बुधवार शाम को मौसी मां के घर पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया। नौ दिनों तक यहां उनका सेवा सत्कार एवं विभिन्न पूजा की जायेगी। आमबगान गुंडिचा मंदिर, संकट मोचन मंदिर, प्लांट साइट गुंडिचा मंदिर, एसटीआइ चौक में भगवान के दर्शन व पूजा अर्चना को सबसे अधिक भीड़ रही।

गुंडिचा मंदिर में भगवान की खूब सेवा व सत्कार हो रही है। यहां पूजकों के द्वारा विभिन्न विधि विधान से उनकी पूजा की जा रही है। शहर के सबसे बड़े गुंडिचा मंदिर आम बगान में सुबह पौने सात बजे मंगलार्पण, सूर्य पूजा, वाल्यधूप, खिचड़ी भोग, बड़ा धूप, सहानामेला, दोपहर में बड़धूप, अवकाश, सहाणमेला, शाम को संध्या आरती, अधरपणा, गीत गो¨वद पाठ का आयोजन किया। शाम को भगवान के मीन वेश की पूजा की गई। बड़ी संख्या में भक्त यहां दर्शन को पहुंचे। गुंडिचा मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित त्रिनाथ पाढ़ी, प्रताप पंडा, मनू खंडवाल, लक्ष्मीधर पाढ़ी, बालकृष्ण पाणीग्राही, प्रसन्न साहू, गोकुलानंद पंडा, प्रमोद महापात्र, मंदिर कमेटी के वटकृष्ण पंडा, भारत मिश्र, आनंद महंती, जजाति केसरी ¨सह, भरत चंद्र पंडा आदि लोग अहम भूमिका निभा रहे हैं। इसी तरह उदितनगर पंच मंदिर जगन्नाथ मंदिर से भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा संकट मोचन मंदिर पहुंची। यहां मंदिर के संस्थापक शिव कुमार शर्मा,अध्यक्ष नरेश अग्रवाल, पुजारी सुदामा पांडे, दिनेश चौबे, सजन मित्तल, ओमप्रकाश बापोड़िया, सुभाष राउत, उमेश ¨सह, श्यामसुंदर शर्मा, बजरंगलाल गोकुलका, आदित्य केशरी राउत, जीडी लेंका, आइनारायण बाबू आदि ने पंचमंदिर उदितनगर से भगवान के साथ आये प्रतिनिधियों का अभिवादन किया। संकट मोचन मंदिर में भगवान की प्रतिमाओं को रखा गया है। यहां नौ दिनों तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। हर दिन प्रसाद सेवन एवं डोनेशन कूपन पर प्रसाद की बु¨कग की व्यवस्था है। इसी तरह हनुमान वाटिका जगन्नाथ मंदिर की प्रतिमा को प्लांट साइट गुंडिचा मंदिर, प्लांट साइट जगन्नाथ मंदिर से भगवान को पावर हाउस रोड, तारिणी मंदिर से भगवान जगन्नाथ को एसटीआइ चौक, ¨टबर कालोनी जगन्नाथ मंदिर से भगवान जगन्नाथ को बीएसएनएल चौक के निकट शिव मंदिर में लाकर रखा गया है। हर दिन यहां विविध कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप