जागरण संवाददाता, राउरकेला : सावन की अंतिम सोमवारी को जलाभिषेक व पूजा अर्चना के लिए शिवालयों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। वेदव्यास त्रिवेणी संगम पर स्थित चंद्रशेखर व बालुंकेश्वर महादेव मंदिर तथा तरकेरा देवगांव स्थित धवलेश्वर महादेव मंदिर में सबसे अधिक भीड़ रही। लंबी कतार के कारण दो से तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ा। भीड़ के मद्देनजर पुलिस प्रशासन की ओर से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे।

अंतिम सोमवारी को जलाभिषेक के लिए झारखंड, छत्तीसगढ़ व ओडिशा के विभिन्न क्षेत्रों से भक्त वेदव्यास त्रिवेणी संगम पर पहुंचे। सुबह यहां पांच हजार से अधिक लोगों ने जलाभिषेक किया। भीड़ के चलते यहां लंबी कतार रही। देवगांव स्थित धवलेश्वर महादेव मंदिर में भी सुबह से ही श्रद्धालुओं की कतार लगी रही। बड़ी संख्या में कांवरिया त्रिवेणी संगम से जल लेकर यहां पहुंचे और बाबा धवलेश्वर का अभिषेक किया। सुबह से ही यहां लंबी कतार लगी होने के कारण तीन घंटे से अधिक समय तक श्रद्धालु अपनी बारी का इंतजार करते रहे। पुराना स्टेशन स्थित गौरीशंकर मंदिर, हनुमान वाटिका सोमनाथ मंदिर, प्लांट साइट शिव मंदिर, डीलक्स गली शिव मंदिर, त्रिनाथ मंदिर बस स्टैंड, पंच मंदिर उदितनगर, पानपोष शिव मंदिर, नया बाजार शिव मंदिर, नया बाजार पहाड़ी मंदिर, मुक्तेश्वर मंदिर टिबर कॉलोनी, स्पप्नेश्वर महादेव मंदिर, अमरनाथ मंदिर गोपबंधुपल्ली, मालगोदाम शिव मंदिर,मधुसूदनपल्ली शिव मंदिर, रेलवे कॉलोनी शिव मंदिर, बसंती कॉलोनी जगन्नाथ मंदिर परिसर शिव मंदिर, पहाड़ी शिव मंदिर, एफसीआइ कॉलोनी शिव मंदिर, लेबर टेनामेंट शिव मंदिर, सेक्टर-3 जगन्नाथ मंदिर परिसर शिव मंदिर, सेक्टर-2 शिव मंदिर, कोयलनगर सी ब्लाक शिव मंदिर, जगदा शिव मंदिर, झीरपानी जलेश्वर मंदिर मिटकुंदरी आदि मंदिरों में भीड़ रही। मंदिर कमेटी की ओर से भी अंतिम सोमवारी को मंदिरों में विशेष प्रबंध किए गए थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप