मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, राउरकेला : राउरकेला परिवार अदालत में करीब दो साल बाद न्यायाधीश की नियुक्ति की गई है। लंबे समय से पद रिक्त होने के कारण परिवार विवाद संबंधित 1600 से अधिक मामले लंबित हैं। राउरकेला बार एसोसिएशन ने नियुक्ति का स्वागत किया गया है एवं मामलों के शीघ्र निपटारे की उम्मीद जताई गई है। अध्यक्ष सत्य शर्मा ने कहा कि लंबे समय से बार इसके लिए प्रयासरत था।

राउरकेला परिवार अदालत में न्यायाधीश का पद रिक्त होने के कारण पारिवारिक विवादों की सुनवाई नहीं हो पा रही थी। न्याय की प्रतीक्षा कर रहे महिला व पुरुषों को मानसिक परेशानी के साथ साथ आर्थिक नुकसान भी हो रहा था। खास कर मेंटेनेंस एवं सेक्शन-13 बी में विचाराधीन मामलों पर कई तरह की असुविधा हो रही थी। इस समस्या के समाधान के लिए राउरकेला बार एसोसिएशन की ओर से समय समय पर आंदोलन किया जाता रहा था। अंत में ओडिशा हाईकोर्ट ने राउरकेला कोर्ट के न्यायाधीश श्रीनिवास प्रतिहारी को परिवार अदालत का न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। संघ की ओर से इसके लिए हाईकोर्ट के प्रति कृतज्ञता प्रकट की गई है तथा अन्य अदालतों में रिक्त पदों पर शीघ्र नियुक्ति की मांग की गई है। अदालत की ओर से परिवार अदालत में न्यायाधीश की नियुक्ति से मामलों का शीघ्र निपटारा होने की उम्मीद जताई जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप