जागरण संवाददाता, राउरकेला : सुंदरगढ़ जिले के राउलडेगा सेक्शन के कुरुमकेल तेतेलझरिया गांव के पास जंगल में हाथी ने युवक को कुचल दिया। गंभीर हालत में उसे सुंदरगढ़ सदर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। जंगल में हाथी होने के कारण वन विभाग की ओर से ग्रामीणों को जंगल में जाने से मना किया था। इसके बावजूद 38 वर्षीय निखला जोजो जंगल चला गया। पुलिस शव को जब्त करने के साथ ही इसकी जांच कर रही है।

सबडेगा ब्लॉक के राउलडेगा सेक्शन क्षेत्र में तीन चार दिनों से हाथियों का झुंड है। वन विभाग की ओर से उन पर निगरानी रखी जा रही है। हाथियों के हिसक होने के कारण वन विभाग की ओर से ग्रामीणों को जंगल नहीं जाने का परामर्श दिया गया है। इसके लिए गांवों में घूम कर लोगों को जानकारी दी गई थी। इसके बाद भी किसी को बताए बगैर तेतेलझरिया गांव निवासी निखला जोजो जंगल में चला गया। दोपहर करीब दो बजे अचानक उसका सामना हाथी से हो गया। हाथी ने उसे कुचल दिया। जंगल के पास ही बैल चरा रहे लोगों को उसके चीखने की आवाज सुनाई दी। इसके बाद गांव के लोग उस ओर गए और गंभीर हालत में निखला को पाया। उसे लेकर गांव पहुंचे एवं वन विभाग को इसकी सूचना दी गई। वन विभाग के सहयोग से उसे सुंदरगढ़ जिला मुख्य चिकित्सालय लाया गया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस द्वारा शव का पंचनामा व पोस्टमार्टम कराया गया साथ ही अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू की गई है।

Edited By: Jagran