जागरण संवाददाता, राउरकेला: ब्राह्माणी ब्रिज की खस्ता हालत को लेकर पुन: आंदोलन का दौर शुरू हो गया है। जिसमें कांग्रेस नेता व पूर्व विधायक प्रभात महापात्र ने इस ब्रिज की हालत सुधारने को लेकर गांधी जयंती पर 12 घंटे की भूख हड़ताल की। वहीं दिल्ली पैदल यात्रा फेम मुक्तिकांत बिस्वाल ने इस ब्रिज की खस्ता हालत को लेकर आइजीएच से लेकर पानपोष चौक तक पदयात्रा निकाली गयी।

उल्लेखनीय है कि विगत कुछ दिनों से ब्राह्माणी ब्रिज की हालत बद से बदतर होती जा रही है। हाल ही में वहां पर एक बड़ा सा सुराख हो जाने से वहां पर यातायात बुरी तरह से प्रभावित हो गया था। इससे आम लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा था। इस मुद्दे को लेकर पूर्व विधायक महापात्र ने ब्रिज की हालत ठीक करने, पानपोष के पास से एक और पुल बनाने के साथ निर्माणाधीन द्वितीय पुल का निर्माण शीघ्र करने के मांग को लेकर गांधी जयंती पर 12 घंटे के अनशन की चेतावनी दी थी। वे गांधी जयंती पर पानपोष चौक पर इस मांग को लेकर 12 घंटे के भूख हड़ताल पर बैठे। इसमें मीडिया कर्मी पीतवास मिश्र, पूर्व पीसीसी सचिव रश्मि पाढ़ी भी उनके समर्थन में बैठे थे। इसके अलावा जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रविराय व अन्य नेताओं ने भी वहां पहुंचकर नैतिक समर्थन प्रदान किया। दूसरी ओर द्वितीय ब्राह्माणी ब्रिज तथा इस्पात जनरल अस्पताल को सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल व मेडिकल कॉलेज के लिए पैदल दिल्ली यात्रा कर चर्चा में रहे मुक्तिकांत बिस्वाल ने गांधी जयंती पर आइजीएच से ब्राह्माणी ब्रिज तक पदयात्रा निकाली गयी। उनके साथ युवा जागृति मंच के संयोजक गोपाल जेना व अन्य समर्थक शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप