जागरण संवाददाता, राउरकेला : राउरकेला कंटेनमेंट जोन में घेराबंदी करने गई पुलिस तथा मीडिया पर पथराव करने के बावजूद आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने पर बजरंगदल की ओर से क्षोभ प्रकट किया गया है। गुरुवार को एडीएम कार्यालय पहुंचकर प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा तथा कोरोना योद्धाओं पर हमले व कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

बजरंगदल के प्रांतीय गोरक्षा प्रमुख राजू सिंह की अगुवाई में कार्यकर्ता गुरुवार को एडीएम कार्यालय पहुंचे थे। प्रधानमंत्री को भेजे गये ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि प्रशासन की ओर से कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने के बाद कंटेनमेंट जोन घोषित करने के साथ ही घेराबंदी की गई थी। इसका क्षेत्र कम कर 26 मई को फिर से कुछ इलाके को घेरा जा रहा था तभी अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोगों उत्पात मचाया। वहां तैनात पुलिस कर्मियों व मीडिया वालों पर पथराव किया गया जिसमें आधा दर्जन से अधिक लोग जख्मी हुए थे। घेरा को तोड़ने के साथ आगजनी भी की गई जिसे नियंत्रण में लेने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करने के साथ ही आंसू गैस के गोले दागने पड़े। जिलापाल, डीआइजी, एसपी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रण में लिया। इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई करने की मांग बजरंगदल की ओर से की गई है। जिला संयोजक शंकर वर्मा, सह संयोजक नील पौल, जिला सुरक्षा प्रभारी रश्मिरंजन बेहरा, महानगर संयोजक राजत विश्वकर्मा के साथ विनोद, विकास, सोनू साहू, प्रकाश, सूरज प्रजापति, शुभम, अभिषेक, आर्यन समेत अन्य लोग शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस