संवाद सूत्र, बंडामुंडा: आम चुनाव को कदाचार मुक्त, स्वच्छ व पारदर्शी बनाने के लिए चुनाव आयोग ने पूरी कमर कस ली है। आयोग का उड़न दस्ता सुंदरगढ़ जिले भर में लगातार अपना जांच अभियान चलाए हुए है। इससे चुनाव के दौरान बिना किसी वैध कागज के 50 हजार से ऊपर की रकम लेकर आने जाने वालों में पहले से ही हड़कंप मचा हुआ है। अब अपराधियों को भी इसका डर सताने लगा है।

बुधवार को सुबह बिरसा ब्लाक अंर्तगत महीपानी में एक ऐसी ही घटना देखने को मिली। बिना नंबर की कार में आ रहे कुछ लोग चुनाव आयोग के उड़न दस्ते की टीम को देखकर 27 लाख रुपये फेंककर फरार हो गए। यह घटना जिले में दिन भर चर्चा का विषय बनी रही। यह रकम चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए ले जाई जा रही थी या फिर यह किसी का काला धन इधर से उधर भेजा जा रहा था या फिर यह किसी आपराधिक गतिविधियों से जुड़ी रकम थी, इसका खुलासा नहीं हो पाया।

सुंदरगढ़ जिले में चुनाव आयोग के विशेष उड़न दस्ते की टीम विभिन्न स्थानों पर वाहनों की जांच कर रही है। खासकर चार पहिया वाहनों को रोककर तलाशी ली जा रही है। संदेह होने पर दोपहिया वाहनों को रोककर भी जांच की जा रही है। इसी कड़ी में बुधवार की सुबह गरीब 11 बजे बिसरा ब्लाक के भालूलता पंचायत अंर्तगत महीपानी में वाहन चेकिग चल रही थी। इसी दौरान झारखंड राज्य की ओर से सफेद रंग की एक कार आ रही थी। उसमें सवार लोगों ने वाहनों की जांच देखा तो अंदर से एक बैग निकालकर बाहर फेंक दिया और कार घुमाकर वापस फरार हो गए। जांच टीम ने फेंका गया बैग खोला तो उसमें से 27 लाख 49 हजार 500 रुपये नकद बरामद हुए। कार पर नंबर प्लेट न होने से उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। जांच टीम इतनी बड़ी रकम ले जाने के पीछे के इरादों की जांच में जुटी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस