जागरण संवाददाता, राउरकेला : सुंदरगढ़ सदर क्षेत्र में कोरोना के लिए आरटीपीसीआर जांच अब तक संभव नहीं हो पाई है। जांच के लिए मशीन उपलब्ध है पर तकनीशियन की कमी के कारण यहां जांच शुरू नहीं हो पाई है। क्षेत्र से नमूने संग्रह कर राउरकेला एवं भुवनेश्वर भेजे जा रहे हैं जिससे रिपोर्ट आने में चार पांच दिन से अधिक समय लग रहा है। इस कारण इलाज में देर हो रही है एवं मरीजों की हालत बिगड़ रही है।

जिले में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो रही है। हल्के लक्षण होने के बाद लोग जांच कराने के लिए केंद्रों में पहुंच रहे हैं। रिपोर्ट आने में चार पांच दिन से अधिक समय लग रहा है जिस कारण मरीज का सही इलाज समय पर नहीं हो पा रहा है। मरीज के संपर्क में आकर और लोग संक्रमित हो रहे हैं। एंटीजेन टेस्ट में रिपोर्ट निगेटिव रहने पर आरटीपीसीआर टेस्ट में पॉजिटिव आ रहा है। ऐसे में मरीज का इलाज करने में चिकित्सकों को परेशानी हो रही है। सुंदरगढ़ स्थित एनटीपीसी कोविड अस्पताल में आरटीपीसीआर जांच के लिए मशीन लगाने की योजना है। इसके लिए स्वीकृति मिलने के बाद भी काम शुरू नहीं हो पा रहा है, इससे परेशानी हो रही है।

यहां 10 आरटीपीसीआर मशीन मौजूद हैं पर तकनीशियन के अभाव में काम शुरू नहीं हो पाया है। शीघ्र ही इस समस्या का समाधान कर लिया जाएगा।

डा. एसके मिश्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सुंदरगढ़ यूको बैंक व एलआइसी दफ्तर शटडाउन : कोरोना संक्रमण के चलते राउरकेला नगर निगम आयुक्त दिव्यज्योति परीडा के द्वारा यूको बैंक सेक्टर-7-8 शाखा एवं एलआइसी के उदितनगर कार्यालय को 72 घंटे के लिए शटडाउन किया गया है। इन संस्थानों के कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद नगर निगम की ओर से यह कदम उठाया गया है। कार्यालय 7 मई तक बंद रखे जाएंगे। इस दौरान कार्यालय परिसर में किसी भी बाहरी व्यक्ति के आने जाने पर पाबंदी होगी। कोरोना संक्रमित कर्मी होम आइसोलेशन में रहकर इलाज करा रहे हैं। उन्हें आपात स्थिति में नगर निगम के हेल्पलाइन नंबर से संपर्क करने का अनुरोध किया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021