जागरण संवाददाता, राउरकेला : कुतरा ब्लाक के कटंग मार्टिनटोला में शव दफनाने के लिए गए ग्रामीणों पर मधुमक्खियों ने हमला बोल दिया। मधुमक्खियों से बचने के लिए लोग शव को घाट पर छोड़ कर जान बचाने के लिए इधर-उधर भागे। हमले में 15 लोगों को अधिक चोट लगी है। इसकी सूचना मिलने पर कुतरा अस्पताल से 108 एंबुलेंस भेज कर सभी को अस्पताल लाया गया, जहां सभी की हालत स्थिर बताई गई है।

कटांग गांव के मार्टिनपाड़ा में बुजुर्ग दमरीश कंडूलना की स्वाभाविक मौत होने के बाद उसके परिवार के लोग तथा पड़ोसी अंतिम संस्कार के लिए पास स्थित श्मशान में गए थे। यहां अंतिम संस्कार के लिए लोगों को जमा देख मधुमक्खियां भड़क गई और लोगों पर टूट पड़ी जिससे यहां अफरातफरी का माहौल बन गया। शव को श्मशान में ही छोड़ कर लोग जान बचाकर इधर उधर भागे। इसके बावजूद मधुमक्खियों ने लोगों का पीछा किया और डंक मारे। इसमें नेशनल समद, आनंदमसी समद, मानसिद कंडूलना, बागदानी कंडूलना, कमल कंडूलना, बिनका लुगून, सुचिता गुड़िया, हर्षिता कंडूलना, इलिसाबा गुड़िया, सितेइ सामद, मार्कोस कंडूलना, निर्मल बागे, नमलेन होरो समेत 15 से अधिक लोग जख्मी हो गए। ग्रामीणों ने कुतरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को सूचित किया। वहां से 108 एंबुलेंस आने के बाद उसके जरिये जख्मी लोगों को कुतरा अस्पातल लाया गया। यहां उनका इलाज चल रहा है। बता दें कि कुछ दिन पहले राजगांगपुर ब्लाक के पानपोष गांव में मधुमक्खियों के हमले में पिता व पुत्री की मौत हो गई थी। इसी सप्ताह लहुणीपाड़ा ब्लाक में मधुमक्खियों के हमले में एक वृद्ध की जान चली गई।

Edited By: Jagran