पुरी, जागरण संवाददाता। कोरोना महामारी से ज्यादा प्रभावित पांच राज्य के पर्यटकों के लिए पुरी में प्रवेश पर पुरी जिला प्रशासन ने प्रतिबंध जारी किया है। इन राज्यों से आने वाले लोगों को 72 घंटे के अन्दर की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य होगी। शहर के चारों तरफ से प्रवेश मार्ग पर पर्यटक सहायता केन्द्र खोलकर कोविड रिपोर्ट जांच की जाएगी। इन पांच राज्यों में महाराष्ट्र , केरल, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ जिला शामिल होने की जानकारी पुरी के जिलाधीश समर्थ वर्मा ने दी है। 

 जिलाधीश वर्मा ने कहा है कि पुरी में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं, ऐसे में यह निर्णय लेना पड़ा है। कोविड निगेटिव रिपोर्ट ना रखने वाले पर्यटक यदि कोरोना के दो डोज लगा चुके होंगे, तो फिर उन्हें पुरी में प्रवेश की अनुमति होगी। इसके लिए संपृक्त व्यक्ति को कोविड टीका लेने का प्रमाणपत्र को जांच के समय दिखाना होगा। ऐसा ना कर पाने पर उन्हें एक सप्ताह तक क्वारेनटाइन में रखा जाएगा। रेलवे से आने वाले सभी पर्यटकों की कोरोना रिपोर्ट जांच करने के साथ ही थर्मल स्क्रिनिंग की जाएगी।

  पहले की तरह पिपिली टोल गेट के सात जिले के 4 प्रवेश मार्ग पर बहुत जल्द प्रक्रिया शुरू की जाएगी। पुरी घुमने आने वाले किसी भी पर्यटक में यदि कोरोना के लक्षण दिखते हैं तो फिर उसके बारे में तुरन्त स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को जानकारी देने के लिए होटल मालिकों को निर्देश जारी किया गया है। होटल मालिकों के साथ जिलाधीश वर्मा एवं जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुजाता मिश्र ने कोरोना संक्रमण नियंत्रण के बारे में चर्चा किए हैं। इसका उल्लंघन करने पर होटल मालिकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी जिलाधीश ने दी है। ग्रामीण विकास सम्मेलन कक्ष में यह बैठक हुई थी। बैठक में होटल कर्मचारियों को एक सप्ताह के अन्दर कोरोना टीका लगवा लेने की सलाह दी गई है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021