पुरी, जेएनएन। सुप्रीम कोर्ट के कड़े निर्देश के बावजूद श्री जगन्नाथ मंदिर के अंदर भक्तों के साथ दु‌र्व्यवहार जारी है। ऐसी ही एक घटना रविवार को सामने आई है। इस संबंध में सिंहद्वार थाना में शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपित सेवायत संतोष कुमार कर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एक महीने के अंदर यह दूसरी घटना है। मई में महाराष्ट्र से आए एक दंपती से जबर्दस्ती दान मांगने वाले सेवायत ने महिला व उसके पति को मंदिर के अंदर ही पीट दिया था।

इस घटना के बाद श्रीमंदिर के अंदर सेवायतों की गुंडागर्दी पर अंकुश लगाने को सुप्रीमकोर्ट तक को हस्तक्षेप करना पड़ा था। इसके बावजूद रविवार को एक बार फिर श्रीमंदिर के अंदर युवती के साथ छेड़खानी की घटना घटी। घटनाक्रम के अनुसार गंजाम जिला अंतर्गत बरहमपुर क्षेत्र से युवती अपने परिवार के साथ महाप्रभु का दर्शन करने आई थी। श्रीमंदिर में नाट्यमंडप स्थित गरुण स्तंभ के पास खड़े होकर वह दर्शन कर रही थी कि सेवायत संतोष कुमार कर ने उसके साथ छेड़खानी करनी शुरू कर दी। पहले युवती को लगा की भीड़ के चलते ऐसा हो रहा है, इससे वह चुप रही। बाद में पता चला की सेवक जानबूझकर इस तरह की हरकत कर रहा है तो फिर श्रीजीवी के सामने ही युवती ने आरोपित को दो थप्पड़ जड़ दिए।

आवाज सुनकर पुलिस भी वहां पहुंच गई और सेवायत को अपने कब्जे में ले लिया। युवती द्वारा ¨सहद्वार थाना में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने आरोपित सेवायत संतोष कुमार कर के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। ¨सहद्वार थाना के इंस्पेक्टर गोकुल रंजन दास के मुताबिक गिरफ्तार युवक सेवक परिवार का सदस्य है।