पुरी, जागरण संवाददाता : शनिवार शाम को कोणार्क के पास स्थित चन्द्रभागा समुद्र तट पर दूसरा अंतरराष्ट्रीय बालुका कला महोत्सव का उद्घाटन किया गया। प्रतिभागियों द्वारा बेलाभूमि बैलून उड़ाकर उद्घाटन हुआ। यह महोत्सव आगामी 5 दिसंबर तक चलेगा। बालुका कला प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए स्पेन, फ्रांस, मैक्सिको, सिंगापुर, नेदरलैंड आदि देशों से 10, मुम्बई से दो और ओडिशा से 10 प्रतियोगी भाग लिए। तीन भाग में बालुका कला महोत्सव आयोजित हुआ। पहले भाग में प्रकृति तथा परिवेश, दूसरे पर्याय में इतिहास तथा तीसरे पर्याय में समुद्र को लेकर बालुका कला प्रदर्शित की जाएगी। इस प्रदर्शनी के पहले दिन पुरी के बादल तराई तथा ओम प्रकाश बारिक ने परिवेश के ऊपर बालुका कला बनाकर उपस्थित लोगों का ध्यान आकर्षित किया। प्रदर्शनी के अंतिम दिन बेहतर बालुका कला बनाने वाले प्रतिभागी को पुरस्कृत किया जाएगा। प्रथम विजेता को एक लाख, द्वितीय विजेता को 50 हजार और तीसरे विजेता को 30 हजार रुपया पुरस्कार में मिलेगा। इस महोत्सव को देखने के लिए देश-विदेश के पर्यटकों की भीड़ जमा हो रही है। महोत्सव के सभी कार्यक्रम अंतरराष्ट्रीय बालु शिल्पी सुदर्शन पटनायक संचालन कर रहे हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर