पुरी : बैकुण्ठ चतुर्दशी के अवसर पर शरधाबाली के मुक्ताकाश रंगमंच पर श्रीक्षेत्र संगीत विकास परिषद की तरफ से 13वां राज्य स्तरीय शिशु भजन समारोह शुरू हुआ है। संवाद के संपादक सौम्य रंजन पटनायक इस दो दिवसीय कार्तिक पूर्णिमा भजन समारोह का उद्घाटन किए थे। उद्घाटन समारोह में अध्यक्षता किए थे अनुष्ठान के अध्यक्ष अनाम चन्द्र साहू ने अध्यक्षता की। अनुष्ठान के संपादक प्रद्युम्न मिश्र ने विवरण पाठ किया। कोषाध्यक्ष विसम्भर साहू अतिथि परिचय दिए। इस अवसर पर विशिष्ट कण्ठशिल्पी श्यामामणि देवी को शरधाबाली सम्मान से सम्मानित किया गया। शिशु कलाकारों को भी इस समारोह में सम्मानित किया गया। अनुष्ठान के स्मरणिका -शिशु कलिका अमृत संतान- का मुख्य अतिथि पटनायक ने विमोचन करते हुए कहा कि संगीत शिक्षा में श्रृंखला, निष्ठा और समर्पण भाव जरूरी है। संब‌र्द्धना के उत्तर में श्यामामणि देवी ने कहा कि रीति युग में सृष्टि हुई ओड़िआ भजन हमारी अमूल्य संपदा है। धन्यवाद अर्पण अनुष्ठान के उपाध्यक्ष नरेन्द्र कुमार जेना ने किया। इस अवसर पर राज्य के विभिन्न जगहों से आए शिशु कलाकार भजन प्रस्तुत कर भजन पेश कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर