पुरी, जागरण संवाददाता

इंडियन इंस्टीट्यूट स्टैटिस्टिक के अध्यक्ष पद से इस्तीफा न देकर यूपीए की तरफ से प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल किए थे। नियमानुसार उनका नामांकन पत्र रद्द होना चाहिए। लेकिन उनके विभाग के केंद्रीय मंत्री श्रीकान्त जेना ने 29 जून से पहले ही प्रणब मुखर्जी के इस्तीफा देने की घोषणा कर दी। इसके प्रतिवाद में पुरी जिला बीजू जनता दल की तरफ से मंगलवार शाम को स्थानीय डीएजी कार्यालय के सामने एक प्रतिवाद सभा आयोजित किए जाने के साथ प्रणब मुखर्जी और श्रीकान्त जेना का पूतला फूंका गया। बीजद के हजारों नेता व कार्यकर्ता शामिल हुए। नगरपाल शांतिलता प्रधान, पब्लिक प्रसिक्यूटर विजय कुमार मिश्र, बीजद के वरिष्ठ नेता के.प्रसाद राव, काउंसिलर प्रशांत पटनायक, एन.बलराम रेड्डी, बीजू छात्र जनता दल के अध्यक्ष भगवान पढि़यारी, छात्र नेता प्रीतम जगदेव, नारायण सिंह प्रमुख इस कार्यक्रम का नेतृत्व लिए थे। यूपीए के राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल, प्रणब मुखर्जी तथा केन्द्र मंत्री श्रीकान्त जेना के खिलाफ बीजू छात्र जनता और बीजू युवा जनता दल के नेता तथा कार्यकर्ता एवं काउंसिलरों ने मुर्दाबाद के नारे लगाए। राष्ट्रपति पद के लिए बीजद के समर्थित उम्मीदवार पी.ए.संगमा के पक्ष में जिंदाबाद के नारे लगाए। प्रतिवाद सभा में बीजद नेता और कर्मियों ने केन्द्री मंत्री श्रीकान्त जेना की कड़ी समालोचना की। उन्होंने कहा था कि प्रणब मुखर्जी तथा श्रीकान्त जेना के आचरण गणतंत्र विरोधी हैं। ओडिशा के जनसाधारण के प्रति श्रीकान्त जेना बार बार विश्वासघात कर रहे हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर