पुरी, जागरण संवाददाता :

श्रीक्षेत्र में शनिवार को हाथ में झाड़ू पकड़कर एक ही प्रकार का पोशाक पहने हजारों पुरुष व महिला शहर के मुख्य रास्ता से शुरू कर गली-गली में सफाई करने में जुट गए थे। डेरा सच्चा सौदा हरियाणा के लगभग 14 हजार सेवक इस सफाई में भाग लेते हुए शहर के सभी इलाकों में जाकर गंदगी साफ किए। केवल सड़क ही नहीं सच्चा सौदा के सेवकों ने नाली के अंदर घुसकर गंदगी साफ किये। डेरा सच्चा सौदा के सेवकों का यह कार्य शहर वासियों को चकित कर दिया। सफाई महाअभियान को शहर वासियों की तरफ से काफी सराहा गया है। पौर संस्था के की जा रही परिमल व्यवस्था सम्पूर्ण रूप से बदतर होने के समय ऐसा सफाई अभियान प्रशासन अधिकारियों को लज्जिात किया है। बड़डाक्टरखाना चौक से इस सफाई अभियान का शुभारंभ हुआ था। डेरा सच्चा सौदा के पूज्य संत राम रहिम सिंह जी इनसा इस सफाई अभियान का शुभारंभ किया। इस सफाई अभियान में पूज्य संत की मां भी शामिल थी। संत राम रहिम ने बैलून उड़ाते हुए हरी झंडी दिखाकर हो पृथ्वी साफ मिटे रोग अभिशाप का शुभारंभ किया। सेवकों ने गुरु जी को धन धन सतगुरु तेरा ही सहारा का नारा लगाते हुए स्वागत किए। कुछ समय के लिए गुरु जी ने नगरपालिका के अध्यक्ष श्रीमती शांतिलता प्रधान और निर्वाही अधिकारी विश्वजीत दास के साथ परिमल व्यवस्था पर चर्चा किए। सेवकों ने दाण्डुआ चौरा, गड़ंति चौक, स्वर्गद्वार, बलिया पंडा समेत विभिन्न गली गली में घुसकर सुबह से अपराह्नं तक सफाई करते रहे। इस अभियान के लिए पुरी शहर को आठ जोन में बांटा गया था। देश के विभिन्न हिस्सों से आए सच्चा सौदा के सेवक इसमें शामिल हुए थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर