पुरी, जागरण संवाददाता :

हरियाणा से आए डेरा सच्चा सौदा अनुष्ठान के मुख्य पूज्य गुरु राम-रहिम सिंह जी इनसा ने पत्रकारों से कहा कि जन जागरूकता पैदा करना इस सफाई महाअभियान का उद्देश्य है। गुरु जी ने कहा कि संगठन की तरफ से वृद्धाश्रम, भूण्र हत्या रोकने के लिए साही बिटिया बसेरा संस्था बनाई गई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में पहले काफी लोगों की मौत हो रही थी। सच्चा सौदा द्वारा सफाई अभियान के जरिए मृत्यु संख्या काफी कम हो गई है। पूरी दुनिया के लिए सफाई महा अभियान के आवश्यकता को डॉक्टर व वैज्ञानिक स्वीकार कर रहे हैं। भारतीय संस्कृति सर्वश्रेष्ठ है। देश से भ्रष्टाचार और ठगी का विलोप जरूरी हो गया है। उन्होंने कहा कि उनके संगठन के 94 हजार 6 सदस्य नियमित रूप से रक्तदान कर रहे हैं। मरने के बाद नेत्र दान करने वाले लोगों की संख्या 10 लाख 6,719 है। उसी तरह मृत्यु के बाद मेडिकल रिसर्च के लिए शरीर दान करने वाले लोगों की संख्या 66,743 है। जिंदा किडनी दान करने वाले लोगों की संख्या 5584 है। संगठन के 88,351 सदस्य घुस नहीं लेने को शपथ लिए हैं। घुस नहीं को 980 लोगों ने शपथ लिया है। इसके अलावा 82735 लोग दहेज न लेने के लिए शपथ लिए हैं। वेश्यावृत्ति त्याग कर समाज के मुख्य धारा में आने के इच्छुक लड़कियों को विवाह करने के लिए 1500 युवक संगठन में तैयार हैं। चार लाख 95 हजार 823 समाज में अच्छे काम करने के लिए शपथ लिए हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर