जागरण संवाददाता, पुरी : श्रीजगन्नाथ धाम पुरी में चल रहे श्रीमद् भागवत यज्ञ में कथा व्यास मृदुल कृष्ण महाराज ने श्रोताओं व भक्तों को उपदेश दिया- चौरासी लाख योनियों में भटकने के बाद मानव शरीर मिलता है। मानव शरीर मिलने के बाद भगवान के चरणों में ध्यान लगाना चाहिए। मानव शरीर मिलते ही हम भगवान से मुंह मोड़ लेते है। मृदुल कृष्ण जी ने कहा कि मन एक ही है, इसे अब चाहे भगवान के चरणों में लगा लो या फिर संसार में लगाओ। मन को प्रभु चरणों में लगाने पर ही मोक्ष संभव है।

कथा व्यास मृदुल कृष्ण ने कहा कि मन को संसार की तरफ मोड़ दिया तो बंधन है और मन को यदि प्रभु की चरणों में लगा दिया तो मोक्ष को पा लेंगे। स्वामीजी ने कहा कि हमारा ध्यान प्रभु में लगे इसके लिए पूर्व से अभ्यास करें। जो प्राप्त करे उसे भविष्य के लिए अवश्य रखें ताकि आपको कभी किसी के आगे हाथ न फैलाना पड़े। यदि थोड़ा थोड़ा आप धन संचय करते है तो बुढ़ापे में आपके पास आपका बेड़ा पार लगाने जितना धन तो संचय कर ही लेंगे, उसी प्रकार यदि आप थोड़ी-थोड़ी मन से भक्ति करे तो फिर आप भक्ति में लीन हो जाएंगे। स्वामी जी ने कहा कि श्रद्धावान व्यक्ति को ही ज्ञान प्राप्त होता है। ज्ञान पवित्र वस्तु है। स्वामी जी ने कहा कि आत्मा को कभी कष्ट नहीं होता है, यदि हम बीमार होते है तो शरीर को तकलीफ पहुंचती है आत्मा को नहीं। भूख या प्यास प्राण को लगती है आत्मा को नहीं।

स्वामी जी ने इस अवसर पर व्रत के भी कई गुण बताए। स्वामी जी ने कहा कि व्रत करने से स्वास्थ्य लाभ होता है, मगर आप व्रत करने की जगह उपवास करे तो ज्यादा बेहतर है। जिस दिन आपका व्रत है, उस दिन आप उपवास करो। अधिक से अधिक समय प्रभु के पास रहो, उनका ध्यान करो। कर्म वही करे जो प्रभु को पसंद आवे। स्वामी जी ने कहा कि व्रत करने से पाप जल जाएंगे, मगर मन में वासना बनी रहती है। स्वामी जी ने इस अवसर पर भक्तों को स“ो मन से उपसना करने तथा प्रभु का गुणगान करने का सुझाव दिया। प्रभु का नाम जपने को आग्रह किया। स्वामी जी ने कहा कि शिव विष्णु में भेद मत करना, नाम जपते समय पाखंड मत करना, संत की निंदा नहीं करनी चाहिए। आज के इस 108 विशाल श्रीमद भागवत कथा यज्ञ में युनिवर्सल इन्फ्रा तथा कृषि तेल प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष सुभाष चन्द्र गुप्ता, भुवनेश्वर मारवाड़ी समाज के अध्यक्ष समाजसेवी महेन्द्र गुप्ता, गुप्ता पावर के निदेशक जितेन्द्र मोहन गुप्ता, गुप्ता पावर के अध्यक्ष भगतराम गुप्ता, श्रीराम निवास गुप्ता आदि ने उपस्थित रहकर राज्य भर से आने वाले श्रद्धालुओं की हर संभव सेवा की।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर