जागरण संवाददाता, पुरी

श्री जगन्नाथ धाम पुरी में कलश शोभा यात्रा निकालने के साथ ही श्रीमद भागवत कथा यज्ञ का शुक्रवार से शुभारंभ हुआ। महाप्रभु जगन्नाथ जी का जयकारा लगाते हजारों श्रद्धालु तथा वैष्णव भक्तों के साथ समाजसेवी महेन्द्र गुप्ता एवं गुप्ता, सुभाष गुप्ता, अखिलेश गुप्ता, आदि नारायण गुप्ता समेत सैकड़ों भगवत प्रेमी कलश यात्रा में शामिल रहे। पुरी होटल से शुरू हुई शोभा यात्रा एक किमी. दूर बलिया पंडा मैदान पहुंची। मंच पर श्रीमद् भागवत पुराण की विधिवत प्राण-प्रतिष्ठा के बाद व्यास मृदुल कृष्ण महाराज ने विधिवत कथा का शुभारंभ किया।

शुक्रवार से लेकर गुरुवार यानी सात दिन तक चलने वाली भागवत कथा के पहले दिन कथा व्यास मृदुल कृष्ण जी महाराज ने श्री जगन्नाथ महाप्रभु की महिमा का वर्णन किया। स्वामी जी ने कहा कि जगन्नाथ जी से बड़ा कोई नहीं है। स्वामी जी ने कहा कि यह आप लोगों का सौभाग्य है कि आप लोग जगन्नाथ धाम में रहते हो। यह जगन्नाथ जी की असीम कृपा है, जिसका लाभ आप लोगों को लेना चाहिए। आप लोग जगन्नाथ जी की गोद में बैठे हैं। जगन्नाथ धाम से बड़ा कोई भी स्थान नहीं मिल सकता है। उन्होंने कहा कि पिछली बार मैं यहां आया था, तो मैंने महाप्रभु जगन्नाथ जी से यह कामना की थी कि हे महाप्रभु, जगत के नाथ जगन्नाथ मुझे अपनी भूमि में भगवत कथा कहने का एक अवसर दें। यह मेरा सौभाग्य है कि महाप्रभु ने मेरी मन की रख ली और आज आप लोगों के बीच हमें भेज दिया। मृदुल जी महाराज से कथा सुनने के लिए कटक, खुर्दा, भुवनेश्वर और जटनी समेत विदेश से भी कुछ श्रद्धालु श्रीक्षेद्द धाम पहुंचे। कथा प्रतिदिन दोपहर ढाई बजे से शाम 6:30 बजे तक सुनाई जाएगी। आयोजकों की ओर से श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद पाने की व्यवस्था की गई है।

कटक मारवाड़ी समाज के सुभाष गुप्ता ने बताया कि मैं बद्रीनाथ धाम में मैं मृदुल कृष्ण जी का प्रवचन सुन रहा था, तभी मेरे मन में विचार आया कि श्रीक्षेद्द धाम में हमें इनके प्रवचन का कार्यक्रम रखना चाहिए। इसी क्रम में गुप्ता पावर केबल परिवार की तरफ से भागवत कथा का आयोजन किया गया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर