जागरण संवाददाता, पुरी

ओडिशाी गुरु स्व.हरिहर खुंटिया की 20वीं स्मृति संध्या यहां सद्भावना सभा कक्ष में आयोजित की गई। गुरु हरिहर खुंटिया स्मृति समिति की ओर से आयोजित सभा में मुख्य अतिथि के रूप में नगरपाल जयंत कुमार षाड़ंगी उपस्थित थे। एडवोकेट जनरल अशोक कुमार महान्ति ने मुख्य वक्ता के रूप में भाग लिया। अनुष्ठान के अध्यक्ष डा. कैलाश चन्द्र टिकायतराय की अध्यक्षता में आयोजित स्मृति संध्या का गुरु विश्वनाथ पूजा पंडा ने उद्घाटन किया। अतिथियों ने सुझाव दिया कि संगीत के क्षेत्र में गुरु हरिहर खुंटिया के उल्लेखनीय अवदान को देखते हुए उनका राज्य स्तर पर सम्मान किया जाना चाहिए। ओडिशा संगीत और नृत्य को शास्त्रीय मान्यता प्रदान के लिए अतिथियों ने प्रस्ताव पारित किया। इस अवसर पर 2011 साल में गुरु हरिहर खुंटिया सम्मान से सम्मानित स्व. गोपीनाथ प्रतिहारी को याद किया गया। सभा के पूर्व शास्त्रेद आर्केस्टा के कलाकारों ने नृत्य पेश किया। पूर्ण चन्द्र चइनी, अनुष्ठान के संपादक चित्तरंजन पंडा, भागीरथी खुंटिया व मधुसूदन खुंटिया ने कार्यक्रम का संचालन किया। अनुष्ठान के उपाध्यक्ष विजय कुमार पंडा ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर