जागरण संवाददाता, पुरी : मुक्ताकाश रंगमंच पर चल रहे राष्ट्रीय संकीर्तन महोत्सव की दूसरी शाम पश्चिम बंगाल वीरभूमि करी संकीर्तन मंडली के कलाकारों द्वारा प्रस्तुत संकीर्तन काफी आकर्षक रहा। संकीर्तन मंडली का नेतृत्व गुरु लक्ष्मी दास बैरागी ने किया।

महोत्सव में श्यामघन बेहेरा के नेतृत्व में गंजाम के चैतन्य नित्यानंद घंट व मृदंग, गुरु गोविन्द चन्द्र पात्र के नेतृत्व में पारलाखेमुंडी की राधा गोविन्द संकीर्तन मंडली, त्रिमन माझी के नेतृत्व में नुआपड़ा के समलेश्वरी संकीर्तन दल एवं गुरु वन विहारी साहू के नेतृत्व में झारसुगुड़ा संकीर्तन दल ने संकीर्तन प्रस्तुत किया। इस दौरान संकीर्तन मंडलियों ने एक से बढ़कर एक भक्तिपूर्ण कार्यक्रम पेश कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। महात्सव में संस्कृति निदेशक सुशील दास, ओडिशा सिने क्रिटिक एसोसिएशन के सचिव दिलीप हाली, श्री जगन्नाथ संकीर्तन सेवा विकास परिषद के अध्यक्ष दिगंबर महान्ति व सचिव जटाधारी मिश्र बतौर अतिथि उपस्थित थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर