पुरी, जागरण संवाददाता :

गोपबन्धु आयुर्वेद महाविद्यालय छात्र संसद का वार्षिक उत्सव का उद्घाटन हो गया है। राज्य स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डा.दामोदर राउत ने इस महोत्सव का उद्घाटन किया। मुख्य वक्ता के रूप में राज्य पर्यटन संस्कृति मंत्री महेश्वर महान्ति उपस्थित थे। सम्मानित अतिथि के रूप में नगरपाल शांतिलता प्रधान, काकटपुर के विधायक रवीन्द्र मलिक भाग लिए। छात्र संसद के अध्यक्ष डा.देवाशीष शतपथी ने उत्सव में अध्यक्षता की। महाविद्यालय के अध्यक्ष प्रो.डा.कैलाश बिहारी महापात्र ने स्वागत भाषण दिया। वार्षिक विवरण छात्र संसद के सचिव रोहित कुमार छातरिया ने पढ़ा। 2012-13 के अध्यक्ष निरोज कुमार मिर्धा और संपादक जयंत बाग मंचासीन थे। मुख्य अतिथि डा. राउत ने कहा कि आयुर्वेद भारत वर्ष की प्राचीन चिकित्सा पद्धति है। अथर्ववेद पर यह आधारित है। पूरी दुनिया में आयुर्वेद प्रसिद्ध है। इस चिकित्सा पद्धति के विकास पर मंत्री राउत ने महत्व दिया। इस अवसर पर मंत्री महेश्वर महान्ति ने कहा कि आयुर्वेद चिकित्सा पर लोगों का विश्वास बढ़ रहा है। गोपबन्धु आयुर्वेद महाविद्यालय में जल्द ही पीजी की पढ़ाई शुरू की जाएगी। आयुष डाक्टरों की समस्या और मांग के ऊपर सरकार जागरूक है। इस अवसर पर महाविद्यालय के मुखपत्र संजीवनी का विमोचन किया गया। उत्सव में अतिथियों को स्मारिका को उपहार स्वरुप प्रदान किया गया। छात्र संसद के सलाहकार डा.आरके आचार्य ने धन्यवाद ज्ञापन किया। सभा के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किया गया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर