जागरण संवाददाता, पुरी : ओडिशा म्यूंसीपाल कर्मचारी महासंघ के 15वां राज्य स्तरीय महाधिवेशन के अवसर पर पौर कर्मचारियों को सरकार कर्मचारी के रूप में घोषणा करने के लिए मांग की गई है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के द्वारा उद्घाटित इस सम्मेलन के अपराह्नं अधिवेशन में एक प्रतिनिधि सम्मेलन आयोजित की गई थी। पौर कर्मचारियों को आगामी दिनों में छंठा वेतन कमीशन के सिफारिश के तहत पेंशन प्रदान के साथ इसके लिए आवश्यक सभी राशि राज्य सरकार देने के साथ 1997 में 19 मई तक कार्यरत सभी अस्थाई कर्मचारियों को वर्कचार्जर घोषणा करने के लिए मांग करते हुए प्रतिनिधि सम्मेलन में प्रस्ताव पास किया गया है। पौर कर्मचारियों को सरकारी कर्मचारी घोषित करने की मांग में महासंघ अपना कामकाज बंद रखने का भी प्रस्ताव पास हुआ है। महासंघ की तरफ से आयोजित एक पत्रकार सम्मेलन में कर्मकर्ताओं ने अधिवेशन में गृहित विभिन्न प्रस्ताव व निर्णय के बारे में जानकारी दिए थे। पत्रकार सम्मेलन में महासंघ के महासचिव प्रदीप कुमार सामल, लक्ष्मीकान्त मिश्र और कालू चरण छोटराय आदि उपस्थित थे। आगामी दो साल के लिए महासंघ के सलाहकार के रूप में सुरेन्द्र नाथ दास, अध्यक्ष के रूप में प्रभात कुमार त्रिपाठी, कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में आशीष कुमार साहू, महासचिव प्रदीप कुमार सामल और प्रमोद कुमार पटनायक, कार्यालय सचिव मनोरंज पंडा और कोषाध्यक्ष अशोक कुमार दास चुने जाने की घोषणा की गई।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर