मुसाबनी : मंगलवार को ग्रामीण विकास विभाग झारखंड सरकार के राज्य संपोषित योजना अंतर्गत बानालोपा सीआरपीएफ कैंप से बलियागोड़ा तक निर्माण होने वाले पीसीसी सड़क के शिलान्यास के अवसर पर जिला परिषद सदस्य बाघराय मार्डी ने योजना के संवेदक और अभियंताओं को खूब खरी खोटी सुनाई और जमकर बवाल मचाया। इस सड़क का शिलान्यास विधायक लक्ष्मण टुडू द्वारा किया जा रहा था। जिप सदस्य बाघराय मार्डी ने आदर्श कंस्ट्रक्शन के शैलेश सिंह, विभागीय अभियंता सुरेंद्र कुमार को चेतावनी देते हुए कहा कि इस योजना का शिलान्यास पूर्व में ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के द्वारा 11 सितंबर को किया गया था। तो आज शिलान्यास का क्या औचित्य था। यदि ग्रामीणों को सड़क निर्माण की जानकारी देने के लिए यह काम किया जा रहा था तो सभी जनप्रतिनिधियों को बुला कर यहा योजना संबंधी बोर्ड लगाया जाना चाहिए। उन्होंने शिलान्यास की सूचना समय पर जिला परिषद सदस्यों को नहीं दिए जाने से काफी नाराज दिखे।

उन्होंने आक्रोशित होकर संवेदक एवं विभागीय अभियंता पर जमकर अपनी भड़ास निकाली। जिला परिषद सदस्य सुभाष सरदार ने भी विभाग के इस रवैया पर काफी नाराज दिखे। जिला परिषद सदस्य बाघराय मार्डी एवं सुभाष सरदार ने एजेंसी और अभियंताओं को दोहरी नीति नहीं अपनाने की नसीहत देते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि का सम्मान करना सीखें। मामला शांत होने के बाद एजेंसी द्वारा यह स्वीकार किया गया कि कहीं न कहीं सूचना देने में बिलंब हुई है।

Posted By: Jagran