संसू, झारसुगुड़ा : सरकार के विभिन्न विभाग में होने वाले शिकायतों के समाधान की समय सीमा तय की गई है। इस बाबत कार्यालयों में समय सारणी भी लगाया गया है। सरकारी बाबू इसका खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं। जिसका एक उदाहरण जिले के लखनपुर तहसील में देखने को मिला है। तहसील से चार साल गुजरने के बावजूद सब कलेक्टर आफिस तक केस रिकार्ड नही पहुंच पाने की शिकायत तपस्वनी ने की है। बीमारी के लिए उनके पास पैसा नही था। इसलिए उन्होंने साल 2016 में अपनी दो एकड़ जमीन लीज में बेचने के लिए आवेदन दी थी। लेकिन उनकी फाइल तहसील से आगे नहीं बढ़ी। उन्होंने झारसुगुड़ा जिलाधीश के पास ऑनलाइन ग्रीवेंस के जरिए शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत के अनुसार साल 1984 में तपस्वनी द्वारा टेंगनामाल में खरीदी गई दो एकड़ जमीन को सरकार से लीज में बेचने के लिए आग्रह किया था। उस वक्त गांव के कुछ लोगों ने सब कलेक्टर से शिकायत की थी। शिकायत के मिलने के बाद सबकलेक्टर ने लखनपुर तहसीलदार को उक्त जमीन का केस रिकार्ड सात दिन के अन्दर भेजने के लिए चिट्ठी के माध्यम से निर्देश दिया था। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि जबतक लीज केस रिकॉर्ड की जांच नहीं हो जाती है वे अपनी जमीन नहीं बेच सकती है। मगर सब कलेक्टर के निर्देश के बावजूद चार साल बीत जाने के बाद भी तहसील ऑफिस से केस रिकार्ड सब कलेक्ट कार्यालय तक नही पहुंचा है। जिलाधीश कार्यालय ने शिकायत दर्ज करने के बाद लखनपुर तहसील से जवाब मांगने के साथ और 15 दिन के अंदर इसका समाधान करने को कहा है। वही सब कलेक्टर शिव शंकर टप्पो ने कहा कि उनकी पास अभी तक इस संबंध में कोई शिकायत नही मिली है। शिकायत मिलते ही इसकी जांच करेंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस