संवाद सूत्र, झारसुगुड़ा : तीन साल से बंद पडी कोनकास्ट स्टील एंड पावर लिमिटेड, बड़माल प्लांट को बिक्री करने का प्रयास शुरू हो गया है। इस प्लांट को खरीदने के लिए एसएमसी पावर जेनरेशन कॉरपोरेशन, हिरमा ने अपना प्रयास जारी रखा है। हाल ही में कंपनी के पदाधिकारियों ने बंद पड़े कारखाना का निरीक्षण कर बातचीत की थी। लेकिन अभी तक बातचीत किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पायी है। इधर, बंद प्लांट की बिक्री होने की सूरत में चालू रहने के दौरान कच्चा माल मुहैया कराने, परिवहन में नियोजित निजी संस्था, ठेकेदार समेत यहां के श्रमिक कर्मचारियों के बकाया का भुगतान कौन करेगा, इस मुद्दे को लेकर भी मंथन चल रहा है। इसके समेत एक विदेशी उद्योगपति ने भी झारसुगुड़ा आकर कोनकास्ट स्टील खरीदने को लेकर कारखाना का निरीक्षण किया।

उल्लेखनीय है कि बड़माल में वर्ष 2004-05 में विपिन वोहरा की एसपीएस स्टील कंपनी ने स्पंज प्लांट की स्थापना की थी। 2013 में कोलकाता के कोनकास्ट ग्रुप ने इस प्लांट को 800 करोड रुपये में खरीदा था। इससे पूर्व इस प्लांट में कोनकास्ट के 50 फीसद शेयर थे। वर्ष 2016 में यह प्लांट अचानक बंद हो गया। इससे यहां के श्रमिक व कर्मचारियों के साथ ठेकेदारों व सप्लायरों को उनका बकाया नहीं मिल पाया। बकाया की मांग पर यहां के कर्मचारियों ने आंदोलन भी किया, हालांकि इसका कोई नतीजा नही निकला है। अब इस प्लांट की बिक्री के बाद उन्हें उनका बकाया मिल सकेगा, यह आस यहां के श्रमिक कर्मचारियों समेत ठेकेदार व सप्लायरो ने भी लगा रखी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप