संवादसूत्र, कटक : कटक जिला बयालिस मौजा बेंटकार सेंट्रल इलेक्ट्रीसिटी सप्लाई यूटीलिटी (सेसु) के जूनियर इंजीनियर को विजिलेंस टीम ने रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपित जूनियर इंजीनियर ऋषिकेश दास बिजली उपभोक्ता से बतौर रिश्वत 10 हजार रुपये ले रहा था। विजिलेंस टीम ने बेंटकार में मौजूद दास के दफ्तर व आठगड़ जिला के राजनगर गांव स्थित उसके घर पर भी छापेमारी की तथा कई अहम कागजात जब्त किए गए हैं। इस घटना के बाद सेसु कर्मचारियों में हड़कंप मच गया है। डर के कई कर्मचारी अपराह्न तक दफ्तर नहीं पहुंचे थे। घटना गुरुवार की है।

घटनाक्रम के अनुसार, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना में कटक सदर थाना अंतर्गत गोविंदपुर गांव के देवी प्रसाद सेठी को प्रसाद इलेक्ट्रिकल ट्रेडर्स में बिजली संबंधित रिपोर्ट की जरूरत थी। इसके लिए सेठी ने जूनियर इंजीनियर ऋषिकेश दास के पास निवेदन किया था। रिपोर्ट देने के लिए जूनियर इंजीनियर ने 10 हजार रुपये की घूस मांगी। इस संदर्भ में सेठी ने विजिलेंस विभाग में शिकायत करने के बाद विजिलेंस की योजना के तहत गुरुवार अपराह्न को विजिलेंस टीम ने रिश्वत लेते इस जूनियर इंजीनियर को रंगे हाथ दबोच लिया।

Posted By: Jagran