संवादसूत्र, कटक : दिव्यांगों के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार की तरफ से कई योजनाएं चलाई जा रही है। इन योजनाओं का फायदा दिव्यागों को नहीं मिल रहा है। यह आरोप लगाते हुए दिव्यांग अधिकार मंच की ओर से सोमवार को जिलाधीश कार्यालय के सामने जोरदार प्रदर्शन किया गया। इस दौरान मंच के नेताओं ने जिलाधीश के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा। ज्ञापन में 80 फीसद से अधिक दिव्यांग लोगों को 3 हजार एवं 40 से 79 फीसद दिव्यांग लोगों को 2000 रुपये मासिक भत्ता देने की मांग की गई है। मंच का आरोप है कि प्रधानमंत्री आवास योजना, बीजू पक्का घर से लेकर 32 किलो चावल आम लोगों को दिया जा रहा है। वहीं दिव्यांगों को मात्र 10 किलो चावल एवं 200 रुपये मासिक भत्ता दिया जाता है। इसी तरह व्हील चेयर एवं ट्राई साइकिल भी सही समय पर नहीं मिल रही है। ब्लाक स्तर पर उद्योग के लिए किसी तरह की सुविधा उपलब्ध नहीं है। लघु उद्योग के लिए भी कोई प्रशिक्षण नहीं दिया जा रहा है। दिव्यांगों की पहचान व प्रमाणपत्र में भी धांधली हो रही है। इस प्रदर्शन में मंच के राज्य संयोजक किरण कुमार भुयां, विद्याधर बेहरा, सह संयोजक नागार्जुन सेठी, कृष्ण चन्द्र गोच्छायत, परमानंद महांती, विजय कुमार नाथ शर्मा, रमाराणी साहू प्रमुख शामिल रहे।

Posted By: Jagran