कटक, जागरण संवाददाता। बिजली दर बढ़ोत्तरी के प्रतिवाद में कटक नगर युवा कांग्रेस की ओर से रानीहाट में मौजूद ओपीटीसीएल यानी टाटा पावर सेंट्रल ओड़िशा डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के कार्यपालक अभियंता कार्यालय के सामने जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया है। विरोध प्रदर्शन के दौरान कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता हिंसा पर उतारू हो गए और तोड़फोड़ करने लगे। इससे वहां तैनात पुलिस एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प शुरू हो गई। स्थिति को अनियंत्रित होते देख पुलिस ने नगर कांग्रेस के अध्यक्ष गिरीवाला बेहेरा समेत सात कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर मंगलाबाग थाने ले आयी है।

 गिरफ्तार होने वाले कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में तृप्ति दास, सौम्य रंजन, गायत्री मल्ल, जनार्दन परिडा, हरेकृष्णा बेहेरा और पिंकी सिंह शामिल हैं। इसके अलावा अन्य 200 कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है पुलिस ने। 

प्राप्त सूचना के मुताबिक, बार-बार बिजली दर बढ़ोतरी का आरोप लाते हुए कटक नगर युवा कांग्रेस की ओर से बिजली दर वृद्धि को वापस लेने की मांग करते हुए कटक नगर युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्की चक्रवर्ती की अगवाई में आंदोलन छेड़ा गया था। जिसमें काफी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता शामिल हुए थे ।कांग्रेस कार्यकर्ता ओपीटीसीएल कार्यालय के सामने नारेबाजी प्रदर्शन किया और ज्ञापन को कार्यालय के कार्यपालक अभियंता को देने के लिए जिद पर अड़े रहे। लेकिन कार्यपालक अभियंता दफ्तर में नहीं थे।

 इससे गुस्साए कांग्रेस कार्यकर्ता पुलिस की मौजूदगी में कार्यालय के गेट पर लगे ताला को तोड़ दिए और जबरन कार्यालय के अंदर दाखिल हुए। उसी समय मंगलाबाग थाना अधिकारी अमिताभ महापात्र ने उन्हें रोकना चाहा तो उनके साथ धक्का-मुक्की हुई। यहां तक कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ओपीटीसीएल बोर्ड में कालिक पोता,  कार्यालय के डेस्क, बेंच, कांच, दरवाजा तोड़ना शुरू किया और कई सामान को इधर-उधर फेंकना शुरू किया जिसके चलते अनुशासन बिगड़ा। ऐसी स्थिति में पुलिस नगर कांग्रेस अध्यक्ष गिरीवाला बेहैरा समेत कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने के साथ ही200 कांग्रेस कार्यकर्तायों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। यह जानकारी गण माध्यम को जोन 2 के एसीपी शेख शरीफउद्दीन ने दी है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021