कटक, जेएनएन। कटक में शववाहक गाड़ी न मिलने से एक बेटे ने अपनी मां के शव को कंधे पर लेकर जाना पड़ा है। हालांकि 1 किमी जाने के बाद शववाहक गाड़ी आ गई और शव को गाड़ी में रखकर ले जाया गया। जानकारी के मुताबिक यह घटना कटक जिला के टांगी थाना इलाके में घटी है। जरिपड़ा पंचायत पइगुआं गांव के खिरोद मलिक की मां रमा मलिक की तबीयत खराब होने से टांगी अस्पताल में भर्ती किया गया था। इलाज के दौरान सोमवार रात करीबन 8 बजे उनकी मौत हो गई। मां की मृत्यु के बाद मलिक ने शववाहक गाड़ी को फोन किया।

रात 8 बजे से 11 बजे तक शव को अस्पताल के बाहर रखकर इंतजार करने के बाद जब शव वाहक गाड़ी नहीं आयी तो फिर मलिक ने मां के शव को कंधे पर रखकर अपने घर के लिए चल दिया। हालांकि एक किमी. जाने के बाद शववाहक गाड़ी आ गई और शव को गाड़ी में रखकर उसके घर छोड़ दिया गया। मलिक द्वारा शव को कंधे पर लेकर जाने का कुछ लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में डाल दिया है, जिसे वायरल होने के बाद लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। लोगों का कहना है कि सरकार ने शववाहक गाड़ी किस लिए और किसके लिए चलायी है। यदि गाड़ी समय पर नहीं पहुंचेगी तो फिर इस योजना का क्या मतलब है।

 

Posted By: Babita