संसू, कटक : कटक के सारला भवन में चलने वाली थिएटर मुवमेंट की दूसरी शाम को सामाजिक नाटक एनएच 16 छाया रहा। नाट्य निदेशक डॉ. धनेश्वर साही के निर्देशन में चलने वाले इस नाटक में राष्ट्रीय राजमार्ग में मौजूद एक छोटी सी झोपड़ी के परिवार की कहानी को खुर्दा के कलाकारों बखूबी दर्शाया। नाटक के माध्यम से बताया कि कैसे एक नारी दुख को अपने अंदर छुपा परिवार को सुखी बनाना चाहती है और उसकी लिए किमती महल या रास्ते के किनारे की झोपड़ी से उसे कुछ फर्क नहीं पड़ता है। जीवन की तमाम कठिनाइयों को लेकर कैसे आगे बढ़ती है और किस तरह की मुश्किलों का उसे सामना करना पड़ता है। खासकर नारी के अंदर मौजूद शक्ति को इस नाटक के माध्यम से संदेश दिया गया। नाटक में किरदारों ने अपनी भूमिका अनूठे अंदाज में पेश कर दर्शकों का दिल जीत लिया। नाटक के अलावा इस शाम को पश्चिम बंगाल से आए राहुल राय के द्वारा ओड़िशी नृत्य, कोलकाता कनिका राय के द्वारा शास्त्रीय नृत्य पेश किया गया, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर पर चलने वाली शास्त्रीय व आधुनिक, लोकनृत्य, संगीत एवं नाटक प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। 84 कलाकारों ने शामिल होकर अपनी प्रतिभा प्रदर्शित किए। थिएटर मुवमेंट की ओर से इन कलाकारों को सम्मानित किया गया। संचालन कमेटी के महासचिव व नाट्यकार प्रो. कार्तिकचंद्र रथ ने कार्यक्रम में अध्यक्षता किए, जबकि प्रो. डॉ. सेख कलीमुल्ली, शिलादित्य रथ, अमरेंद्र बेहुरिया, विश्वंबर साहू, लक्ष्मीप्रिया ओझा, अभिप्सा पुजारिनी दास आदि ने तमाम कार्यक्रम का संचालन किए।

Posted By: Jagran