कटक, अक्षय प्रधान। ओडिशा की प्राचीन राजधानी कटक शहर की डिप्टी मेयर बनी है दमयंती माझी। कटक जगतपुर बालिसाई बस्ती में रहने वाली दमयंती ने हाल ही में खत्म होने वाली कटक नगर निगम चुनाव लड़कर पार्षद बनी। गुरुवार को नगर निगम की डिप्टी मेयर चुनाव में वह बिना किसी समस्या से डिप्टी मेयर के तौर पर निर्वाचित हुई हैं।

डिप्टी मेयर चुनाव में वह अकेली नामांकन पत्र भरने हेतु उन्हें बिना किसी प्रतियोगिता के चलते डिप्टी मेयर घोषित किया गया है। सबसे कम उम्र की डिप्टी मेयर बनने का श्रेय उनके नाम पर है। एक मजदूर के घर में पैदा होने वाली दमयंती इन दिनों रिवेन्शा विश्वविद्यालय में वाणिज्य विभाग की दूसरे वर्ष की पीजी छात्रा है। उनके पिता 2017 में महानदी में डूब कर जान गवाए थे। जबकि मां मजदूरी कर दमयंती और अन्य दो भाई बहनों को उच्च शिक्षा दी है। दमयंती की छोटी बहन रवेन्श विश्वविद्यालय में प्लस 3 की पढ़ाई कर रही है। जबकि छोटा भाई फुलनखरा में मौजूद आईटीआई कालेज में ट्रेनर के तौर पर कार्य कर रहा है। उनके पिता स्वर्गीय श्यामसुंदर माझी और माता सार माझी की बड़ी बेटी दमयंती अपने परिवार के साथ वर्ष 1998 से जगतपुर बालिसाही बस्ती में रहती आ रही है। 22 साल की दमयंती कटक की चौथी डिप्टी मेयर बनी है। अनुसूचित जनजाति वर्ग की यह छात्रा पढ़ाई के साथ साथ बस्ती के लोगों के लिए काफी सालों से नियमित रूप से कई सामाजिक कार्य करती आ रही थी। जगतपुर न्यू इंडस्ट्रियल इस्टेट इलाके में पली बढ़ी है दमयंती। हालांकि उनका गांव केंदुझर जिला में है।

अब मेरी जिम्मेदारी बढ़ गई है

झोपड़पट्टी से सीधा सियासी बागडोर ने उन्हें एक अनोखा एहसास दिया है। दमयंती माझी डिप्टी मेयर बनने के बाद बातचीत करते हुए कहा कि, बस्ती वासियों की बुनियादी जरूरतों को मैं बचपन से देखती आ रही हूं। मुझे अब एक बड़ी जिम्मेदारी मिली है। डिप्टी मेयर के नाते मैं निश्चित तौर पर बस्ती वासियों की तमाम समस्याओं को हल करने के लिए कोशिश करूंगी। उन्हीं के बलबूते पर में आज यहां तक पहुंची हूं। मेरे पास सियासत को लेकर ज्यादा तजुर्बा नहीं है। पहले पार्षद चुनाव में जीत हासिल हुई। फिर डिप्टी मेयर की जिम्मेदारी निश्चित तौर पर यह मुझे खुशी तो दी रही है लेकिन मेरी जिम्मेदारियों को भी काफी बढ़ा दिया है। यह सब के लिए मैं मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, पूर्व विधायक प्रभात रंजन विश्वाल, जिला बीजद अध्यक्ष देवाशीष सामंतराय, विधायक शोभिक विश्वाल एवं मुझे चुनाव में जीत दिलाने वाले तमाम लोगों को मैं आभार प्रकट करती हूं।

राजनीति को लेकर मेरे पास तजुर्बे की कमी है, लेकिन मैं मेहनत करूंगी। मुझे कटक निकाय चुनाव में पार्षद और डिप्टी मेयर बनने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा है। पार्षद के तौर पर चुने जाने के बाद मैं सिर्फ अपने वार्ड की विकास और वहां के लोगों की तरक्की पर ही ज्यादा ध्यान केंद्रित करने के लिए पहले सोच रही थी। लेकिन अब मेरी जिम्मेदारी डिप्टी मेयर बनने के बाद काफी बढ़ गई है। आगामी 5 साल के अंदर कटक नगर निगम के तमाम 59 वार्ड में रहने वाले लोगों की हित के लिए और वार्ड की विकास के लिए मैं कार्य करूंगी। जो लोग मुझे यह जिम्मेदारी सौंपे हैं उनकी कसौटी पर खरा उतरने के लिए मैं भरपूर कोशिश करूंगी।

लोगों की सेवा ही मेरी प्राथमिकता

बस्ती में काफी सालों से रहती आई हूं और उनके समस्याओं के साथ रूबरू हूं। इसलिए मैं राज्य सरकार की जगह मिशन से लेकर बीजू आदर्श कॉलोनी आदि योजनाओं के माध्यम से बस्ती वासियों के लिए कार्य करूंगी। अतिक्रमण के चलते विभिन्न जगहों से हटाए जाने वाली बस्ती वासियों की पुनर्वास की व्यवस्था के लिए कार्य करूंगी।जगह मिशन के तहत बस्ती के लोगों को पट्टा मुहैया कराना, राशन कार्ड और भत्ता आदि मुद्दों पर जरूर अहमियत दूंगी। डिप्टी मेयर के नाते शहर के तमाम वार्ड की विकास पर ध्यान दूंगी। खास तौर पर बस्ती में मेरा घर है और वहां पर रहने वाले महिलाओं को किस तरह से अधिक काम मिल सकेगा और वह आर्थिक एवं सामाजिक तौर पर अधिक तरक्की कर सकेंगे, उसके लिए अधिक संख्या में एचएससी ग्रुप तैयार कर उन्हें दिशा दिखाने के लिए भरपूर कोशिश करूंगी।

पढ़ाई को हमेशा में अहमियत देती आई हूं, भविष्य में भी पढ़ाई को जारी रखूंगी। पढ़ाई के चलते ही मैं आज इस जगह पर पहुंच पायी हूं। सियासत के साथ-साथ अपनी पढ़ाई पर निश्चित तौर पर अधिक ध्यान दूंगी। लोगों की सेवा ही मेरी प्राथमिकता होगी, यह बात कही है दमयंती ने। राज्य की बीजू जनता दल सरकार ने बस्ती की दमयंती मांझी को कटक नगर निगम की डिप्टी मेयर के तौर पर नाम घोषित करने के पश्चात शहर में अब इन दिनों सुर्खियों में हैं दमयंती माझी। विभिन्न वर्ग के लोगों ने यह उम्मीद भी जताया है कि, दमयंती निश्चित तौर पर कटक शहर की विकास में अहम भूमिका निभाएगी। वहीं दूसरी ओर दमयंती ने कहा है कि, लोगों की विश्वास पर खरा उतरने के लिए मैं अपनी तरफ से निश्चित तौर पर कठिन परिश्रम करूंगी।

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट