संसू, कटक : केंद्रापाड़ा जिला मार्शाघाई के अविनाश पाइटल की महाकालपाड़ा पुलिस की कस्टडी में हुई मौत को लेकर उसके परिवार वालों ने पुलिस एडीजी योगेश बहादुर खुरानिया से मुलाकात की। पुलिस मुख्यालय में खुरानिया से मुलाकात कर परिवार वालों ने उपयुक्त मुआवजा देने के साथ दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। एडीजी ने इस घटना के बारे में एचआरपीसी जांच कराने का आश्वासन दिया। महाकालपाड़ा थाना से महज कुछ ही दूरी पर 26 अगस्त को मार्शाघाई बालणा गांव के शरत चंद्र पाइटल के बेटे अविनाश पाइटल का शव निर्माणाधीन घर से मिला था। महाकालपाड़ा थाना पुलिस चोरी के मामले में अविनाश को गिरफ्तार किया था। परिजनों ने आरोप लगाया है कि 25 अगस्त की रात अविनाश को पुलिस थाना के बाहर पीट कर टांग दिया था, जिससे उसकी मौत हो गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप