संसू, कटक : पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के 10वें दिन शनिवार को नगर में उनका दशाह (दशकर्म) आयोजित रहा। नगर के बीड़ानाशी स्थित महानदी के चहटा घाट पर आयोजित इस कार्यक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से लेकर बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए तथा सामूहिक रूप से सुबह-सुबह मुंडन कराया। इसमें पूर्व मंत्री समीर दे, भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रदीप स्वांई, ललातेंदु बडु प्रमुख समेत भाजपा के राज्य उपाध्यक्ष दिलीप मलिक, अभिनेता श्रीतम दास, नगर अध्यक्ष लक्ष्मीधर प्रधान, नेता विश्वजीत महांती आदि शामिल हुए एवं मुंडन के पश्चात नदी किनारे भाजपा के तमाम महिला-पुरुष कार्यकर्ताओं ने तिल तर्पण किया। इसके अलावा श्राद्ध प्रक्रिया भी विधि-विधान से की गई। इस मौके पर समीर दे ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी देश ही नहीं बल्कि विदेश में मशहूर थे। भाजपा नेता व कार्यकर्ताओं के वह मार्गदर्शक थे। उन्होंने ही राजनीति में आने की हमें प्रेरणा दी है। उन्हीं की प्रेरणा को आधार कर कई नेता देश एवं राज्य में शोहरत हासिल किए हैं। ऐसे में उनके लिए यह श्रद्धांजलि है, लेकिन यह भी कम है। आने वाले दिनों में तमाम भाजपा के नेता व कार्यकर्ता उनके दिखाए मार्ग पर चलकर उनके नीति व आदर्श को अपने जीवन में आत्मसात कर आगे बढ़कर देश के विकास में सहभागी बनना अटल जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। तिल तर्पण के बाद विधि के मुताबिक श्राद्ध कार्य संपन्न हुआ और ब्राह्माणों को भोजन कराया गया। अंत में इस कार्यक्रम में मौजूद तमाम लोगों को प्रसाद आवंटन किया गया।

Posted By: Jagran