जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : जानलेवा खेल मोमो चैलेंज आर सभी जगहों में चर्चा का विषय बना हुआ है। कटक जिला के माहांगा थाना अंतर्गत भद्रेश्वर पुलिस चौकी के उमर गांव निवासी एक युवक ने मोमो गेम के चक्कर में फंस कर आत्महत्या कर ली। बुधवार को उसके परिजनों ने यह जानकारी दी। इससे पहले राउरकेला में भी एक छात्र ने मोमो गेम के कारण अपनी जान गंवा बैठा था।

सूचना के मुताबिक गांव के अलेख बेहेरा का बड़ा बेटा उमाकांत बेहेरा चेन्नई में मजदूरी करता था। कुछ दिन पहले ही वह घर आया था। जहां ज्यादा समय मोबाइल पर गेम खेलने में गुजारता था। मंगलवार की रात उसने आत्महत्या कर लिया। घर वालों से पता चला कि उसने अपने मोबाइल फोन पर मोमो गेम डाउन लोड कर लिया था। बुधवार को उमाकांत के पिता ने थाना में इस बात की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया दी है। पुलिस अधिकारी पवित्र महारणा ने कहा है कि जांच के बाद मृत्यु का सही कारण पता चल सकेगा।

-------

कटक में मोमो के जाल में फंसने से बची छात्रा

जासं, कटक : आए दिन मोमो गेम के चलते देश भर में युवाओं के साथ अप्रिय घटना का समाचार मिल रहा है। इसके बावजूद कोई सार्थक कदम अब तक नहीं उठाया जा सका है। मोमो के जाल में कटक की एक कॉलेज छात्रा फंस गई थी, लेकिन समझदारी से काम लेते हुए उसने फोन को बंद कर दिया। जिससे वह मोमो चैलेंज के पंजे में फंसने से बाल-बाल बच गई है। इसके बाद छात्रा के परिवार वालों ने उक्त फोन को बंद कर दिया है।

सूचना के मुताबिक कटक काजीढीअ श्रीरामनगर इलाके की कॉलेज छात्रा के वाट्सएप पर मोमो चैलेंज गेम का लिंक आया। इसमें एडमिन ने शीशा के सामने खड़ा होकर अपनी चोटी मुंह के आगे डालकर सेल्फी लेकर उसे लिंक में छोड़ने का निर्देश दिया। इस निर्देश के बाद छात्रा ने सेल्फी लेकर बताए गए लिंक पर भेज दिया। इसके बाद उसे अपना हाथ काटने का निर्देश दिया गया। यह निर्देश आने के बाद छात्रा डर गई और समझदारी से काम लेते हुए उस गेम को अपने मोबाइल से अन स्टाल कर दिया। लेकिन गेम अन स्टाल नहीं हुआ। इसके बाद छात्रा के पास चेतावनी आई कि अगर उसने अनस्टाल किया तो एकाउंट नंबर हैंक हो जाएगा। इससे छात्रा परेशान हो गई और किसी को कुछ बताए बगैर फोन को स्वीच ऑफ कर दिया। जानकारी होने पर परिवार वालों ने छात्रा से मानसिक स्थिति के बारे में जानना चाहा तो उसने सारी बात बता दिया। इसके बाद परिवार वालों ने इसे गंभीरता से लेते हुए मोबाइल को बंद करा दिया।

Posted By: Jagran