भुवनेश्वर, जेएनएन। केंद्रपाड़ा जिले की महिलाओं ने शराब के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। जिले के मार्शाघाई ब्लाक अंतर्गत अंगुलाई चौक पर दो शराब दुकान हटाने में शासन-प्रशासन का सहयोग न मिलने पर बुधवार को महिलाओं ने सामूहिक धरना के साथ ही आमरण अनशन शुरू कर दिया। इस दौरान पुलिस की महिलाओं के साथ धक्का मुक्की भी हुई। फिलहाल इलाके में आवागमन पूरी तरह से ठप है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए मौके पर एक प्लाटून पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

खबर के मुताबिक मार्शाघाई ब्लाक अंतर्गत अंगुलाई चौक पर एक देसी, एक विदेशी शराब की दुकान है। इन दोनों को बंद कराने के लिए इलाके की महिलाओं ने कई बार पुलिस प्रशासन से गुहार लगाया, मगर उनकी एक नहीं सुनी गई। प्रशासन की अनदेखी करने के बाद महिलाओं ने दुकानों को हटाने का बीड़ा अपने सिर पर ले लिया और बुधवार को सैकड़ों महिलाएं खुद ही दुकान बंद कराने पहुंच गई। सूचना मिलने पर पुलिस प्रशासन ने महिलाओं को रोकने का प्रयास किया। जिस पर पुलिस के साथ महिलाओं की धक्का मुक्की हुई। प्रतिवाद स्वरूप महिलाओं ने अंगुलाई चौक पर महात्मा गांधी की प्रतिमा रखकर धरने पर बैठ गई और आमरण अनशन शुरू कर दिया। इस संबंध में महिलाओं का साफ कहना है कि जब तक उक्त दोनों दुकान बंद नहीं की जाती हमारा अनशन जारी रहेगा। प्रशासन की लाख कोशिश के बावजूद वे धरना पर बैठी रही। सुरक्षा के मद्देनजर मौके पर एक प्लाटून पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।