जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : पूर्वतट रेलवे (पूतरे) के महाप्रबंधक उमेश ¨सह ने क्षेत्राधिकार के अधिकारियों व कर्मचारियों से संरक्षा संबंधी मामलों में दोहरी सतर्कता बरतने की अपील की है। बताया है कि पूतरे को हाल ही में यातायात परिवहन और वित्तीय प्रबंधन के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया है। यह •ाोन अभी देश में सर्वाधिक लदान करने वाला •ाोन बन गया है।

अन्य •ाोन सहित रेलवे बोर्ड में भी सभी को पूतरे से काफी अपेक्षा है। परंतु, हाल की कुछ घटनाओं से इसकी छवि प्रभावित हुई है। इन घटनाओं का कारण कुछ लोगों की लापरवाही हो सकती है या फिर इसके पीछे कुछ और कारण हो सकता है, परंतु इससे पूरे संगठन की बदनामी हो रही है। उन्होंने कहा कि इस जोन की कार्य संस्कृति सर्वोत्तम है, इसके कर्मचारी सभी क्षेत्रों में सर्वोच्च स्तर पर सम्मानित हुए हैं। अन्य रेलवे जोन पूतरे के निष्पादन का अनुशरण करते हैं और यहां के कर्मचारियों की कार्यप्रणाली का उदाहरण देते हैं।

सिंह ने संरक्षा व तकनीक के क्षेत्र में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को ट्रेन परिचालन के सभी नियमों का कड़ाई से पालन करने और किसी भी शार्ट-कट तरीके से बचने का निर्देश दिया है। उन्होंने परिसंपत्तियों के उचित रख-रखाव सहित नियमित व ठेका कर्मचारियों के नियमित प्रशिक्षण पर जोर देने की बात कही है। उन्होंने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों से अपील की है कि ग्राहकों एवं यात्रियों से और अच्छा व्यवहार करें। बताया है कि सूचना तकनीक एवं सोशल मीडिया के विस्तार से रेल कर्मियों की कार्य-प्रणाली की काफी सूक्ष्म स्तर पर समीक्षा हो रही है। छोटी से छोटी घटनाएं भी तुरंत प्रकाश में आ जाती हैं। अत: इन परिस्थितियों से निबटने के लिए ड्यूटी के दौरान सर्वोच्च स्तर की सतर्कता अपनाएं। उन्होंने आशा जतायी कि उनकी टीम इसे एक चुनौती के रूप में लेगी और सबसे निचले स्तर पर भी काम करने वाले कर्मी भी बेहतर कार्य निष्पादन के लिए अपने सुझाव और विचार लेकर आएंगे। इसमें आम जनता के सुझावों का भी स्वागत किया जायेगा।

¨सह ने कहा है कि कर्तव्य पालन में कोताही बरतने वाले पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। जहां कहीं भी कर्मी दोषी पाये जायेंगे उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जायेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस