संवादसूत्र, भुवनेश्वर : सांसद बैजयंत पंडा की कंपनी इंफा के बाद अब उनके भुवनेश्वर स्थित ओरटेल कार्यालय के बाहर सोमवार को जोरदार प्रदर्शन किया गया। सरकारी जमीन को हथियाने के आरोप में चंद्रशेखरपुर के सी-1 में स्थित ओरटेल कार्यालय के सामने अनशन आरंभ हो गया है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि यह जमीन एक स्कूल को आवंटित की गई थी। सांसद पंडा ने चालाकी से जमीन का ट्रांसफर करवा लिया और यहां अपनी कंपनी ओरटेल का कार्यालय खोल लिया। सैकड़ों लोग सोमवार शाम को ओरटेल कार्यालय पहुंचे और गेट पर ताला जड़ दिया। लोग यह जमीन सरकारी खाते में पुन: वापस करने की मांग कर रहे हैं। घटनास्थल पर प्रदर्शनकारियों ने अनशन भी शुरू कर दिया है और अजीत दास आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। इनका आरोप है कि 10 हजार लोगों के रिहायसी इलाके में स्कूल के मैदान वाली जगह पर कब्जा जमाना अनुचित है। इस स्थान पर लोगों के कल्याण के लिए कोई निर्माण किया जाना चाहिए। नागरिक कमेटी के अध्यक्ष अजीत दास का कहना है कि सरकार को ओरटेल से टैक्स के तौर पर जितनी रकम मिल रही है उससे कहीं ज्यादा रकम वह स्थानीय व्यापारियों के लिए दुकान बनवा कर प्राप्त कर सकती है। इलाके में व्यापारी कारोबार के लिए जगह न मिलने पर रास्ते के किनारे स्थाई तौर पर व्यापार कर रहे हैं जबकि अपना प्रभाव दिखा कर सासंद ने सी-1 की इतनी बड़ी जगह पर अपना साम्राज्य बना रखा है।

उल्लेखनीय है कि राज्य में केबल एवं ब्राडबैंड सेवा देने के साथ सैकड़ों युवाओं को रोजगार देने वाली कंपनी ओरटेल के खिलाफ अचानक इस तरह के आंदोलन के पीछे क्या उद्देश्य है, इस पर सवाल उठना लाजिमी है। स्थानीय लोगों ने इस तरह के आंदोलन का विरोध किया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस