संवादसूत्र, भुवनेश्वर : वर्ष 2016-17 में रिकार्ड अन्न उत्पादन करने वाले ओडिशा के लिए वर्ष 2017-18 का आंकड़ा निराश करने वाला है। सालभर के अंदर 32 लाख टन अन्न की उपज मे कमी आई है। हालांकि दाल दलहन की ऊपज पिछले साल के मुकाबले बढी है। वर्ष 2016-17 के दौरान प्रदेश में कुल 116.82 मीट्रिक टन अन्न का उत्पादन हुआ था जो वर्ष 2017-18 में घटकर 84.71 मीट्रिक टन तक गिर गया है। इसके कारण विगत पांच साल से लगातार 4 बार केंद्र सरकार से कृषि कर्मण का पुरस्कार पाने वाले ओडिशा को इसबार शायद यह पुरस्कार मिलने में दिक्कत पेश आए। सरकारी सूत्रों के अनुसार सूखा, फसल में कीड़ा लगना और असमय बारिश के कारण उत्पादन में गिरावट दर्ज की गई है। सूत्रों के अनुसार सूखे के चलते 17 जिलों के 6140 गांव के 3 लाख 25 हजार हेक्टेयर जमीन की फसल प्रभावित हुई है। इसी तरह कीड़ा प्रभाव से राज्य के 26 जिलों के 8170 गांव की 1.29 लाख हेक्टेयर जमीन की फसल को नुकसान हुआ है। सरकार को वर्तमान तक संपूर्ण रिपोर्ट नहीं मिल पाई है। पूरी रिपोर्ट आने के बाद स्थिति में थोड़ा बहुत बदलाव हो सकता है मगर विशेष फर्क पड़ता नजर नहीं आ रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप