भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता।  सरकार के बड़े अधिकारियों को समय पर कार्यालय आने के लिए सरकारी गाड़ी दिए जाने का प्रावधान है। इसके बावजूद उच्चशिक्षा विभाग के अनेक अधिकारी काफी बिलंब से कार्यालय पहुंचने की घटना को विभाग ने गंभीरता से लिया है। उच्चशिक्षा विभाग की ओर से निर्देश जारी कर कहा गया है कि एक अगस्त से अगर सरकारी गाड़ी होने के बावजूद कोई उच्च अधिकारी समय पर कार्यालय नहीं आता हैं तो उनसे गाड़ी वापस ले ली जाएगी।

  उच्चशिक्षा सचिव शास्वत मिश्र के हस्‍ताक्षर से जारी निर्देश में साफ किया गया है कि विभाग में काम कर रहे सचिव, विशेष सचिव, अतिरिक्त सचिव, संयुक्त सचिव, उप सचिवों को सरकारी गाड़ी दिए जाने के बावजूद कार्यालय में समय पर ना आने की घटना बढ़ती जा रही है। नियमानुसार सुबह 10 बजे कार्यालय आने का प्रावधान है अन्य विशेष कार्य के लिए अधिक 30 मिनट का समय दिया जाता है बावजूद इसके 11 बजे तक बड़े अधिकारियों के दर्शन नहीं मिलते हैं।

 अतः निर्णय लिया गया है कि बिलंब से आने वाले अधिकारियों से गाड़ी वापस कर ली जाएगी। अगस्त महिने से इस नियम को कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया गया है। विभाग के इस आशय के निर्देश को बुद्धिजीवी वर्ग ने सराहना की है और अन्य विभागों में भी ऐसा करने की मांग की गई है।

 स्‍वच्‍छ शासन देने के लिए ओडिशा में लागू की गयी 5टी एवं मो सरकार योजना

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस