जासं., भुनवेश्वर : ओडिशा विधानसभा का शीत अधिवेशन बुधवार से शुरू हो रहा है। इसके लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की किए जाने के साथ ही विधानसभा को जोड़ने वाली सभी मार्ग पर प्रतिबंध लगाए गए हैं। विधानसभा शुरू होने से पहले कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से आम लोगों के उद्देश्य से जारी की गई विज्ञप्ति जारी की गई है। इसमें हाउसिंग बर्ड चौक की तरफ से आने वाले वाहनों को केशरी टाकिज से आगे नहीं जाने दिया जाएगा। यहां से वहाने बाएं रास्ते से अपने गंतव्य स्थल पर जाएंगे। उसी तरह से एजी चौक से पीएमजी चौक की तरफ आने वाले सभी वाहनों को जयदेव भवन के पास रोक दिया जाएगा।

सभी वाहनों को पावर हाउस चौक की तरफ से जाना होगा

यहां से दाहिने रास्ते से इंदिरा गांधी पार्क वाले मार्ग से अपने गंतव्य स्थल पर जाना होगा। मास्टर कैंटीन की तरफ से जाने वाले मार्ग को अवरोध कर दिया गया है। लोयर पीएमजी चौक के बाएं या फिर दाएं पार्श्व के मार्ग से जाने की अनुमति दी गई है। महात्मा गांधी मार्ग पर जाने की अनुमति नहीं दी गई है। 120 बटालियन चौक की तरफ से पीएमजी चौक की तरफ आने वाले सभी वाहनों को पावर हाउस चौक की तरफ से जाना होगा।

विस, लोकसेवा भवन के वाहनों पर लागू नहीं किया गया

राजभवन चौक की तरफ से एमएलए कालोनी एवं रवीन्द्र मंडप को जाने वाले सभी वाहन को शास्त्री नगर से जाना होगा। यहां उल्लेखनीय है कि 1 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक अधिवेशन चलने वाला और तब तक के लिए उपरोक्त प्रतिबंध जारी किए गए हैं। यह प्रतिबंध विधानसभा, लोकसेवा भवन एवं अन्य सरकारी कार्यालय को जाने वाले वाहनों पर लागू नहीं किया गया है।

6 अतिरिक्त एसपी, 13 इंस्पेक्टर, 62 अधिकारी तैनात रहेंगे

पुलिस महानिदेशक अभय ने आज विधानसभा शीत अधिवेशन के लिए की गई सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की है। डीजीपी के समीक्ष के समय वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित थे। डीजीपी के समीक्षा के बाद पुलिस कमिश्रन सौमेन्द्र पिर्यदर्शी ने कहा कि शीत अधिवेशन के लिए विधानसभा में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। 30 प्लाटुन पुलिस बल तैनात किए गए हैं। 6 अतिरिक्त एसपी, 13 इंस्पेक्टर, 62 अधिकारी तैनात रहेंगे। सुरक्षा व्यवस्था पर पैनी नजर रखने के लिए 5 कंट्रोल रूम बनाए गए हैं।

Edited By: Vijay Kumar